नई दिल्ली: बिहार और असम समेत देश के कई इलाके भारी बारिश और बाढ़ से जूझ रहा है जबकि उत्तर-पश्चिम भारत मानसून की बेरुखी झेल रहा है. चालू मानसून सीजन में अब तक बिहार में औसत से 50 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है जबकि उत्तर-पश्चिम भारत में औसत से 18 फीसदी कम बारिश हुई है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) से मिली जानकारी के मुताबिक, चालू मानसून सीजन के दौरान एक जून से लेकर 26 जुलाई तक बिहार में 690.7 मिलीमीटर बारिश हुई, जबकि इस दौरान औसत बारिश 460.3 मिलीमीटर होती है. इस प्रकार बिहार में औसत से 50 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है. पूरब और पूर्वोत्तर भारत में इस साल मानसून के दौरान अब तक 806.4 मिलीमीटर बारिश हुई है जोकि औसत से 13 फीसदी ज्यादा है. Also Read - Cyclone Tauktae Update News: 5 राज्‍यों में खतरा, NDRF 53 टीमें कर रहा तैनात

वहीं, उत्तर-पश्चिम भारत में 26 जुलाई तक 203.7 मिलीमीटर बारिश हुई, जबकि इस दौरान इलाके में औसत बारिश 248.8 मिलीमीटर होती है. मध्य भारत में औसत से दो फीसदी ज्यादा बारिश हुई है. देश के इसी हिस्से में ओडिशा, मुध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र और गुजरात आते हैं. मध्य भारत में चालू सीजन में 445 मिलीमीटर बारिश हुई है, जबकि औसत बारिश इस दौरान 435.9 मिलीमीटर होती है. Also Read - Delhi Weather Report: अचानक बदला दिल्ली का मौसम, कुछ इलाकों में बारिश से लुढ़का पारा

दक्षिण प्रायद्वीपीय हिस्से में मानसून सीजन में 26 जुलाई तक औसत से 15 फीसदी अधिक बारिश हुई है. देश के इस हिस्से में चालू सीजन में 392.4 मिलीमीटर बारिश हुई है, जबकि इस दौरान औसत बारिश 341.7 मिलीमीटर होती है. आईएमडी के अनुसार, चालू मानसून सीजन के दौरान पूरे भारत में एक जून से लेकर 26 जुलाई तक औसत से चार फीसदी ज्यादा बारिश हुई है. चालू मानसून सीजन में 26 जुलाई तक देशभर में 418.1 मिलीमीटर बारिश हुई है, जबकि इस दौरान देशभर में औसतन 403.9 मिलीमीटर बारिश होती है. Also Read - Weather in Madhya Pradesh: मध्य प्रदेश में यलो अलर्ट जारी, इसलिए जारी हुई चेतावनी, आप भी रहें सतर्क