वेलिंगटन, 4 मई | न्यूजीलैंड के साउथ आईलैंड में सोमवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए। इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर छह मापी गई है। यह जानकारी ‘द न्यूजीलैंड हेराल्ड’ समाचार पत्र की वेबसाइट से सामने आई है।  न्यूजीलैंड में भूकंप पर निगरानी रखने वाली एजेंसी जियो नेट के मुताबिक, भूकंप का केंद्र वानाका शहर से 30 किलोमीटर दूर उत्तर-पश्चिम में था। एजेंसी के मुताबिक, भूकंप के झटके तेज थे।  राजधानी वेलिंगटन में भी झटके महसूस किए गए। अभी तक जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है।

अंडमान द्वीप में शुक्रवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अधिकारी के मुताबिक, भूकंप मध्यम तीव्रता का था। अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, “रिक्टर पैमाने पर 5.1 तीव्रता वाले भूकंप से अपराह्न 2.29 बजे अडमान क्षेत्र हिल गया।”

नेपाल में आए विनाशकारी भूकंप में मृतकों की संख्या बढ़ कर 6,166 हो गई है। नेपाल के गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। समाचार चैनल ‘कांतिपुर न्यूज’ के मुताबिक, नेपाल पुलिस ने बताया कि भूकंप में घायलों की संख्या 10,000 से अधिक हो गई है। भूकंप में 12,064 घर नष्ट हो गए हैं। पुलिस उपमहानिरीक्षक कमल सिंह बैम के मुताबिक, “यह सिर्फ प्राथमिक आंकड़ें हैं। हम अभी भी नुकसान का आकलन कर रहे हैं।” यह भी पढ़ें– नेपाल : 5000 से अधिक मौतें, गुस्साए लोगों ने किया प्रदर्शन

नेपाल के विभिन्न भागों तातोपानी, चौतारा, लुक्ला, रुमझातर, डोलखा और लंगतांग से गुरुवार को 117 विदेशी और नेपाली नागरिकों को काठमांडू लाया गया। नेपाल सेना ने कहा कि उसने अभी तक 748 घायलों का इलाज किया है, जिसमें से 326 लोगों को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई। सेना गुरुवार को इलाज के लिए देश के विभिन्न हिस्सों से 248 घायलों को काठमांडू लेकर आई।

इस खोज, बचाव और राहत अभियान में लगभग 20 हेलीकॉप्टर शामिल हैं। सेना के दलों ने प्रभावित जिलों में 11,250 किलोग्राम राहत सामग्री वितरित की है, जिसमें सोलुखूंबु, रसूवा, सिंधूपालचौक और डाडिंग जिले शामिल हैं। जॉर्डन, चीन, इटली, फ्रांस, इंडोनेशिया, सिंगापुर जैसे विभिन्न देशों से भी भूकंप प्रभावित क्षेत्रों में सहयोग के लिए बचाव और चिकित्सा दल काठमांडू पहुंच गए हैं।