श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में रविवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में छह आतंकवादी मारे गए और इस दौरान एक सैनिक भी शहीद हो गया. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दोनों ओर से हुई गोलीबारी में एक नागरिक की मौत हो गई, जबकि चार अन्य स्थानीय लोग घायल हो गए, जिससे युवकों और सुरक्षा बलों के बीच भीषण झड़प हो गई. मुठभेड़ में छह आतंकवादी ढेर हो गए और उनके शव घटनास्थल से बरामद कर लिए गए हैं.

पत्‍थरबाजों ने रुकावटें पैदा की
बता दें कि दो दिन पहले भारतीय सेना ने अनंतनाग में 6 आतंकियों को मार गिराया था. वहीं, पत्‍थरबाजों ने सेना के अभियान में रुकावटें पैदा करने की कोशिश की और सुरक्षाबलों के काफिलें के वाहनों पर पत्‍थर भी फेंके.

आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चलाईं 
अभियान की जानकारी देते हुए अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी के संबंध में खुफिया जानकारी के आधार पर सुरक्षाबलों ने देर रात हिपुरा बाटागुंड गांव में घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया था. उन्होंने बताया कि तलाशी के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चलाई, जिससे अभियान मुठभेड़ में बदल गया.

जवान नजीर अहमद ने दम तोड़ा 
अधिकारी ने कहा, शुरुआती गोलीबारी में 34आरआर का एक जवान घायल हो गया था. जवान को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है. हालांकि, 34आरआर का एक जवान नजीर अहमद, जो गंभीर रूप से घायल हो गया था, ने दम तोड़ दिया.” उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में छह आतंकवादी ढेर हो गए और उनके शव घटनास्थल से बरामद कर लिए गए हैं.

 मुठभेड़ के दौरान पांच नागरिकों को भी गोली लगी
अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की पहचान और उनके संगठन के बारे में पता लगाया जा रहा है. मौके से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद भी बरामद हुए हैं. उन्‍होंने बताया कि मुठभेड़ स्थल के पास गोलीबारी में पांच नागरिकों को भी गोली लग गई.

 मोबाइल इंटरनेट सेवा निलंबित
पुलिस अधिकारी ने बताया कि उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां एक ने दम तोड़ दिया. अन्य घायलों का इलाज जारी है. उन्होंने बताया कि शोपियां और कुलगाम जिले में एहतियाती तौर पर मोबाइल इंटरनेट सेवा निलंबित कर दी गई है.