तिरुवनंतपुरम: केरल में कोरोना वायरस के छह नये मामलों की मंगलवार को पुष्टि होने के साथ राज्य में इस वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़ कर 12 हो गई है. इस बीच, राज्य सरकार ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने की कोशिश के तहत शैक्षणिक संस्थानों और सिनेमाघरों को बंद करने सहित कई पाबंदियां लगाने का फैसला किया है. Also Read - सुहाना की रगों में दौड़ रहा है इस चीज का जुनून, इंडिया वापस आकर भी करती है ये काम और...

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने मंगलवार को मंत्रिमंडल की एक विशेष बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि कम से कम 1,116 लोग– विभिन्न अस्पतालों के 149 पृथक वार्डों में निगरानी में हैं, जबकि 967 को घर में पृथक रखा गया है. स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने कहा कि नये मामले इटली से लौटे दंपति, उनके बेटे और दोस्त तथा रिश्तेदारों के हैं. उन्होंने कहा कि जिन छह नये मामलों की पुष्टि हुई है उनमें दंपति के वृद्ध माता-पिता भी शामिल हैं. विजयन ने कहा कि स्कूल, कॉलेज और सिनेमा घर 31 मार्च तक राज्य में बंद रखे गये हैं. Also Read - लॉकडाउन: लोगों को घर बैठे फिट रहने के TIPS देंगी जेनिफर लोपेज और मलाइका अरोड़ा

राज्य, सीबीएसई और आईसीएसई बोर्डों के सभी स्कूलों में कक्षा एक से सात तक बंद रहेंगे और उनके लिये शुरू की गई परीक्षाएं रोक कर रखी जाएंगी. हालांकि, 10 वीं और 12 वीं कक्षा तथा व्यावसायिक उच्चतर माध्यमिक की परीक्षाएं जारी रहेंगी. मदरसा, आंगनवाड़ी, ट्यूशन कक्षाएं भी 31 मार्च तक बंद रहेंगी. मुख्यमंत्री ने कहा मंदिर और चर्च के समारोहों को टाला जाना चाहिए. विजयन ने कहा कि सबरीमला में भगवान अयप्पा मंदिर मासिक पूजा के लिये 13 मार्च को खुलेगा लेकिन इस समय श्रद्धालुओं को दर्शन से बचना चाहिए. मंदिर बोर्ड ने श्रद्धालुओं से मंदिर नहीं आने की अपील की है. विजयन ने कहा कि विवाह समारोह किये जा सकते हैं लेकिन लोगों के बड़े समागम को टाला जाना चाहिए. Also Read - लॉकडाउन: 'टाइगर किंग' के एक्स्ट्रा एपिसोड जारी करेगा नेटफ्लिक्स