कोलकाता. निर्भया केस के छह साल पूरे होने के मौके पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने देश को महिलाओं के लिए बेहतर स्थान बनाने की रविवार को अपील की. बनर्जी ने ट्विटर पर लोगों से महिलाओं के खिलाफ हिंसा खत्म करने की अपील की. उन्होंने लिखा, दिल्ली में हुए भयावह निर्भया हादसे के आज छह वर्ष पूरे हो गए. इस हादसे ने देश को हिला दिया था. एक समाज के तौर पर हमें देश को महिलाओं के लिए बेहतर स्थान बनाना चाहिए. महिलाओं के खिलाफ हिंसा को ‘ना’ कहें. Also Read - तिहाड़ जेल के नाम दर्ज हुआ एक साथ चार दोषियों को फांसी देने का रिकॉर्ड

बता दें कि 23 वर्षीय पैरामेडिकल छात्रा के साथ 16 दिसम्बर 2012 को चलती बस में सामूहिक बलात्कार किया गया था और फिर उसे उसके पुरुष मित्र के साथ वाहन से सड़क पर फेंक दिया गया था. पीड़िता को बाद में इलाज के लिए सिंगापुर ले जाया गया लेकिन वह बच नहीं पाई. हादसे के खिलाफ देश में व्यापक स्तर पर प्रदर्शन किए गए. Also Read - तीन दशक में 16 अपराधी फांसी पर लटकाए गए, निर्भया के दोषियों से पहले याकुब मेमन को हुई थी फांसी

सभी को हुई थी सजा
सभी छह आरोपियों को गिरफ्तार कर उनपर बलात्कार और हत्या का मामला चलाया गया. इन आरोपियों में से एक ने जेल में ही खुद को फांसी लगा ली थी, जबकि हादसे के समय उनमें से एक नाबालिग था जिसे सुधार गृह में अधिकतम तीन वर्ष की सजा दी गई. अन्य चार बाद में बलात्कार और हत्या के दोषी पाए गए. उन्हें बाद में मौत की सजा सुनाई गई, जिसपर अभी तामील नहीं हुई है. Also Read - Nirbhaya Gang Rape and Murder Case Latest Updates: चारों दोषियो को फांसी, निर्भया की मां बोलीं- आज तसल्ली मिली

केजरीवाल ने ये कहा
दूसरी तरफ दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने निर्भया सामूहिक बलात्कार कांड के छह वर्ष पूरे होने पर रविवार को पीड़िता को याद करते हुए तमाम बाधाओं के बावजूद महिलाओं की सुरक्षा के लिए संघर्ष करने का संकल्प लिया. केजरीवाल ने ट्विटर पर लिखा, दिल्ली के इतिहास में आज के दिन छह वर्ष पहले सबसे जघन्य अपराध हुआ था. निर्भया को अपने मन-मस्तिष्क में जिंदा रखने के लिए हमें तमाम बाधाओं के बावजूद महिलाओं की सुरक्षा के लिए कड़ा संघर्ष सुनिश्चित करना होगा.