धेनकनाल: ओडिशा के धेनकनाल जिले में कामलंगा गांव के नजदीक बिजली की तार के संपर्क में आने से शनिवार को 7 हाथियों की दर्दनाक मौत हो गई. हाथियों का झुंड सदर वन रेंज के पास से गुजर रहा था उसी दौरान 1100 किलोवाट हाई वोल्टेज लाइन की चपेट में आने से ये हादसा हुआ. मरने वालों में 6 व्यस्क हाथी और एक शावक था. हादसे की सूचना मिलने के बाद वन अधिकारी मौके पर पहुंच गए है.

काफी नीचे से गुजर रहा है हाई वोल्टेज का तार
हादसे के बारे में जानकारी देते हुए सहायक वन संरक्षक (एसीएफ) जितेंद्र दास ने कहा कि विभाग को सूचना मिली है कि सदर वन रेंज में गांव के पास से 13 हाथियों का झुंड गुजर रहा था और इनमें से सात हाथी 11 किलोवाट की बिजली लाइन के संपर्क में आ गए जिसके चलते उनकी मौत हो गई. उन्होंने बताया कि ग्रामीणों ने सुबह पांच हथिनी और एक हाथी शावक समेत सात हाथियों को मरा हुआ देखा और इसकी सूचना वन्य अधिकारियों को दी. यह घटना स्पष्ट रूप से बिजली की तारों के काफी नीचे तक झुके होने के कारण हुई.

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में सीलबंद लिफाफे में सौंपी राफेल डील की जानकारी, सोमवार को होगी सुनवाई

उन्होंने बताया कि तीन हाथियों के शव सड़क पर पड़े हुए थे और चार अन्य नहर के भीतर पड़े हुए थे. यह घटना तब हुई जब हाथियों का झुंड पास के धान के खेत से कैनल रोड की तरफ बढ़ रहा था. एक अधिकारी ने बताया कि धेनकनाल के वनमंडल अधिकारी सुदर्शन पात्रा और एसीएफ दास सहित सभी वरिष्ठ वनाधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए. हाथियों के शवों को कब्जे में लेकर वन विभाग इनका पोस्टमार्टम करवाएगा. मामले की तफ्तीश जारी है. (इनपुट एजेंसी)

गुजरात में पीएम मोदी, सीएम रूपाणी और ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ के पोस्टरों को फाड़ा और कालिख पोती