नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश में जनसंख्या विस्फोट पर चिंता जताते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि यह आने वाली पीढ़ियों के लिए नयी चुनौतियां पेश करता है. मोदी ने कहा कि इससे निपटने के लिए केन्द्र और राज्य सरकारों को कदम उठाने चाहिए. प्रधानमंत्री मोदी ने 73वें स्वतंत्रता दिवस पर बृहस्पतिवार को देश को संबोधित करते हुए कहा कि बेतहाशा बढ़ रही जनसंख्या चिंता का विषय है और समाज का एक छोटा वर्ग जो अपना परिवार छोटा रखता रहा है, वह सम्मान का हकदार है. जो वे कर रहे हैं वह एक प्रकार की देशभक्ति है.

यह पहली बार है जब मोदी ने जनसंख्या का मुद्द उठाया है. हालांकि भाजपा के कुछ नेता इस पर खुल कर बात करते हैं. मोदी ने कहा कि अगर जनता शिक्षित और स्वस्थ है तो देश भी शिक्षित और स्वस्थ बनेगा. ऐसे में सवाल उठने लगा है कि क्या मोदी सरकार जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कानून बनाएगी.

(इनपुट भाषा)