मुंबईः महाराष्ट्र में दो और लोगों के कोरोना वायरस(Corona Virus) से संक्रमित पाए जाने के बाद राज्य में इसकी चपेट में आने वाले लोगों की संख्या 19 पहुंच गई है. स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि दो में से एक मरीज अहमदनगर शहर का है. हालांकि उन्होंने दूसरे मरीज के निवास स्थान के बारे में नहीं बताया. Also Read - 350 जरूरतमंद परिवारों की मदद कर रहे हैं भारतीय स्पिनर शाहबाज नदीम

अधिकारी ने बताया, ‘‘शुक्रवार की शाम तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 17 थी. दो और लोगों की जांच रिपोर्ट देर रात को आई. उनके संक्रमित पाए जाने के बाद राज्य में अब संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 19 हो गई है.’ उन्होंने बताया, ‘‘इनमें से एक अहमदनगर शहर का है. वह हाल ही में दुबई से लौटा था और उसमें कोरोना वायरस संक्रमण के जैसे ही लक्षण थे.’’ उन्होंने बताया, ‘‘उसके खून के नमूने को जांच के लिए भेजा गया, जिसमें देर रात को संक्रमण की पुष्टि हुई.’’ Also Read - Coronavirus Lockdown: रामायण ने तोड़े TRP के सारे रिकॉर्ड, दोबारा प्रसारण के साथ मचाया तहलका

राज्य में कोरोना वायरस के मामलों में से दस पुणे से, तीन-तीन मुंबई और नागपुर तथा एक ठाणे से है. कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर राज्य सरकार ने शुक्रवार को मुंबई, ठाणे, नवी मुंबई, नागपुर, पुणे और पिंपरी-चिंचवड में 30 मार्च तक सिनेमा थिएटरों, जिमखानों, स्विमिंग पूल और पार्कों को बंद करने का आदेश दिया. सरकार के फैसले के अनुसार, पुणे और पड़ोसी औद्योगिक शहर पिंपरी तथा चिंचवड में स्कूल तथा कॉलेज अगले आदेश तक बंद रहेंगे.

कोरोना वायरस से हुई महिला की मौत, निगमबोध घाट प्रशासन ने अंतिम संस्कार की नहीं दी इजाजत

इंफोसिस ने खाली कराई बिल्डिंग

कोरोना वायरस के खतरे के चलते देश की दिग्गज कंपनी इंफोसिस ने अपनी बेंगलुरू वाली बिल्डिंग को पूरी तरह से खाली करा लिया है. जानकारी केअनुसार कंपनी ने यह कदम तब उठाया जब उन्हें कंपनी के एक कर्मचारी पर कोरोनावायरस से संक्रमित होने का संदेह हुआ. आपको बता दें आईटी कंपनी इंफोसिस की बैंगलुरू में एक दर्जन से अधिक बिल्डिंग्स हैं.

कई राज्यों में 30 मार्च तक स्कूल-कॉलेज हुए बंद

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए एहतियात के तौर पर प्रदेश में सभी स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर, जिम, सिनेमाघर एवं रंगमंच आदि को 30 मार्च तक बंद रखने के निर्देश दिए हैं. इस अवधि में आयोजित होने वाले म्यूजिक इन द पार्क तथा नाटक मंचन जैसे कार्यक्रम भी स्थगित रहेंगे.

गहलोत ने शुक्रवार की देर रात एक उच्चस्तरीय बैठक में कोरोना वायरस की स्थिति की समीक्षा बैठक के दौरान यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया. उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन तथा संयुक्त राष्ट्र द्वारा कोरोना वायरस को महामारी घोषित करने तथा केन्द्र सरकार की ओर से जारी किये गये परामर्श के तहत एहतियात के तौर पर संक्रमण से बचाव के लिए यह निर्णय लिया गया है.

कोरोना का कहर: भारत में अब तक 83 मामले, इंफोसिस ने अपना ऑफिस कराया खाली, कई जगहों पर पार्क भी बंद

मुख्यमंत्री ने आम लोगों को कोरोना वायरस के विषय में भयभीत नहीं होने की सलाह दी. उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें तथा आवश्यकता होने पर ही सार्वजनिक परिवहन का प्रयोग करें. गहलोत ने कहा कि स्कूल और कॉलेजों में चल रही बोर्ड परीक्षाओं पर कोई रोक नहीं होगी. साथ ही, मेडिकल तथा नर्सिंग कॉलेज में कार्य संचालन सामान्य रूप से जारी रहेगा. उन्होंने प्रदेशवासियों से शादी समारोहों को छोटा रखने तथा सीमित संख्या में मेहमानों को बुलाने की अपील की है.

अमेरिकी राष्ट्रपति कराएंगे कोरना वायरस की जांच
पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से हाहाकार मचा हुआ है. दुनियाभर में लगभग एक लाख 40 से ज़्यादा लोग कोरोना संक्रमित हैं. चीन से होते हुए ये वायरस इटली, कोरिया, ईरान, ब्रिटेन, अमेरिका तक में कहर बरपा रहा है. चीन के बाद इटली में सबसे ज़्यादा 1, 226 मौतें हुई हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे पूरी दुनिया के लिए महामारी घोषित किया है. अमेरिका ने इसे राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दिया है. वहीं, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि वह भी कोरोना की जांच कराएंगे. हालांकि साथ ही उन्होंने कहा कि उनमें इस बीमारी के कोई लक्षण नहीं दिखे हैं.

ट्रम्प ने कहा, ‘‘मैं नहीं कह सकता कि जांच नहीं होगी. अधिक संभावना है कि जांच होगी.’’ डोनाल्ड ट्रम्प की यह टिप्पणी तब आई है जब व्हाइट हाउस के रोज गार्डन में एक संवाददाता सम्मेलन में उनसे लगातार यह पूछा गया कि वह जांच क्यों नहीं करा रहे जबकि गत सप्ताहांत उन्होंने ब्राजील के उस अधिकारी से मुलाकात की थी जो बाद में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया. ट्रम्प ने ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो और उनके संचार प्रमुख फैबियो वाजगार्टन से फ्लोरिडा में मुलाकात की थी. वाजगार्टन कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए जबकि बोलसोनारो संक्रमित नहीं पाए गए.

कोरोना का कहर: भारत में अब तक 83 मामले, इंफोसिस ने अपना ऑफिस कराया खाली, कई जगहों पर पार्क भी बंद

वाशिंगटन में बंद हुआ मंदिर
स्वामी नारायणन संप्रदाय ने तेजी से फैलते नोवेल कोरोना वायरस के मद्देनजर दुनियाभर में अपने सभी मंदिर बंद करने और अगले आदेश तक सभी नियमित गतिविधियां निलंबित करने का ऐलान किया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर चुका है. इससे अबतक 5 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जिनमें अमेरिका में 41 लोगों की मौत भी शामिल है. इसके अलावा दुनियाभर में 134,000 से अधिक लोग इससे संक्रमित हैं.

बोचासनवासी श्री अक्षर पुरुषोत्तम (बीएपीएस) स्वामीनारायणन संस्था के अमेरिका में लगभग 100 मंदिर हैं. यहां पूरे महीने विशेषकर सप्ताहांत में हजारों श्रद्धालु दर्शन के लिये आते हैं. बीएपीएस ने एक मीडिया विज्ञप्ति में कहा, ‘बड़ी सभाओं से बचने के लिये पूरी दुनिया में बीएपीएस मंदिर बंद रहेंगे, लेकिन श्रद्धालु प्रत्येक मंदिर की वेबसाइट के माध्यम से दैनिक दर्शन कर सकेंगे.’