नयी दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित दिल्ली के मरीज के संपर्क में आने वाले 88 लोगों की जांच के सभी प्रयास जारी हैं. साथ ही उन्होंने बताया कि आपात स्थिति के मद्देनजर 19 सरकारी और छह निजी अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं. Also Read - Cinema Halls Will Reopen: इसी माह खुल जाएंगे सिनेमा घर! जानिए सरकार क्या कर रही प्लानिंग

उन्होंने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कोरोना वायरस से उत्पन्न हालात से निपटने के लिए उनके नेतृत्व में एक टास्क फोर्स का गठन किया गया है. किसी को घबराने की जरुरत नहीं है. टास्क फोर्स में सभी संबंधित विभागों के लोग शामिल होंगे. उन्होंने कहा कि हम हालात को लेकर चिंतित हैं लेकिन घबराने की जरुरत नहीं है. केजरीवाल ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण की जांच के लिए लेडी हार्डिंग अस्पताल और एलएनजेपी अस्पताल में दो लैब बनाए जाएंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि मास्क की कोई कमी नहीं है. Also Read - डोनाल्ड ट्रंप ने की पीएम नरेंद्र मोदी से बात, कहा- अगले हफ्ते तक भारत भेजेंगे 100 वेंटिलेटर्स

होटलों और अतिथि गृहों में भी जांच
उन्होंने कहा कि दिल्ली के नगर निगम उन चार देशों से आने वाले पर्यटकों से संपर्क कर रहे हैं और उनकी जांच करवा रहे हैं जहां कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले हैं. शहर के होटलों और अतिथि गृहों में भी जांच की जा रही है. केजरीवाल ने बताया कि आपात स्थिति के मद्देनजर 19 सरकारी और छह निजी अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं. Also Read - पेसर मोहम्मद शमी बोले-हम अब भी सोचते हैं कि माही भाई आएंगे और...