नई दिल्‍ली: दुनिया में भारी तबाही मचाए कोरोना संकट के खिलाफ लड़ाई लड़ने में हमारे देश के छोटे बच्‍चे- बड़े, बुजुर्ग से लेकर अमीर-गरीब समेत सभी वर्ग के लोग आगे बढ़कर आए हैं. यहां तक भिखारी भी दान के मामले देने के मामले में आगे आ रहे हैं. तमिलनाडु में ऐसा ही एक भिखारी आया सामने आया है. भीख मांगकर अपनी जिंदगी चलाने वाले इस भिखारी ने 10 हजार रुपए राज्‍य सरकार के COVID19 राहत फंड में दान दिए हैं. Also Read - विदेश से आने वाले भारतीयों को अब 7 दिन रहना होगा क्वारंटाइन, वापस किए जाएंगे बचे हुए पैसे

पूलपंडियन (Poolpandiyan) नाम का यह शख्‍स मदुराई में एक मंदिर के सामने बैठकर हर दिन भीख मांगता है. सोमवार को भिखारी पूलपंडियन मदुराई के जिला कलेक्‍टर टीजी विनय को राज्‍य सरकार के COVID19 राहत फंड में दान के रूप में 10 हजार रुपए दिए. पेशे से भिखारी पूलपंडियन ने बताया कि यह दान उसने एजुकेशन फंड को दिया होता, लेकिन अब इसे राहत कोश में दान दिया है, क्‍योंकि कोविड बड़ा मुद्दा है. Also Read - छत्तीसगढ़ में Coronavirus के 15 नए केस, कुल आंकड़ा, 307 लेकिन कोई भी मौत नहीं

बता दें कि तमिलनाडु में 536 नए और COVID19 मामले (46 महाराष्ट्र से लौटे) सामने आए और आज 3 मौतें तमिलनाडु में हुईं. राज्य में कुल मामलों की संख्या अब 11760 है, जिसमें 7270 सक्रिय मामले और 81 मौतें शामिल हैं.