नई दिल्ली: लोकप्रिय पर्यटन स्थलों शिमला, मनाली और डलहौजी में रातभर हुई बर्फबारी के चलते रविवार चारों ओर बर्फ की चादर बिछी नजर आ रही है. इसके चलते कुछ अंदरूनी हिस्सों में सड़क मार्ग अवरुद्ध हो गया, लेकिन पर्यटकों के बीच उत्साह और खुशी का माहौल है, वे बर्फ के गोले बनाकर और एक-दूसरे पर बर्फ के गोले फेंककर इसका लुत्फ ले रहे हैं. होटल मालिकों ने इस उम्मीद में खुशी जताई कि आने वाले दिनों में भी बड़ी संख्या में पर्यटक आएंगे. मौसम विभाग ने सोमवार से शुष्क मौसम होने का अनुमान लगाया है. Also Read - हिमाचल प्रदेश में जबरदस्त बर्फबारी, अटल सुरंग के पास 300 पर्यटक फंसे, पुलिस ने बचाया

Also Read - Himachal Pradesh 10th 12th Board Exam: हिमाचल प्रदेश में 10वीं 12वीं बोर्ड परीक्षा की तारीख घोषित, जानें कब से हैं एग्जॉम

शिमला के आसपास के पर्यटक स्थलों जैसे कुफरी, चैल, फागू और नारकंडा में भी सामान्य बर्फबारी हुई, जिससे हिल स्टेशन बेहद खूबसूरत नजर आ रहे हैं. इसी तरह, मनाली और सोलांग और कल्पा में बर्फबारी हुई. चंबा जिले के डलहौजी में 30 सेंटीमीटर की बर्फबारी देखी गई. Also Read - हिमाचल प्रदेश के पूर्व सीएम और उनका पूरा परिवार कोरोना की चपेट में, सचिव और सुरक्षा अधिकारी भी संक्रमित

मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि शिमला, कुल्लू, किन्नौर, लाहौल एवं स्पीति और चंबा जिलों में बर्फबारी हुई. उन्होंने कहा, ऊंचे पहाड़ी इलाकों में सामान्य से लेकर भारी बर्फबारी हुई है, जबकि निचले पहाड़ी इलाकों में बारिश हुई है.

शिमला में न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि लाहौल एवं स्पीति जिले का केलांग शून्य से 11 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान के साथ राज्य में सबसे ठंडा जगह रहा. शिमला में 3.5 सेंटीमीटर और केलांग में नौ सेंटीमीटर बर्फबारी देखी गई. धर्मशाला में तापमान 2.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ. कल्पा में तापमान शून्य से 4.8 डिग्री सेल्सियस नीचे और मनाली में शून्य से 1.6 डिग्री सेल्सियस नीते दर्ज हुआ.

शिमला में पर्यटक एक-दूसरे पर बर्फ के गोले फेंककर मौज-मस्ती करते देखे गए. अपने दोस्तों के साथ सिमला आईं चंडीगढ़ की पर्यटक नितिका सोढ़ी ने कहा, “हमने पहली बार बर्फबारी देखी है. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि शिमला में बर्फीला नजारा एक-दो दिनों तक रहेगा.