नई दिल्ली: दिल्‍ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने बुधवार की शाम देशद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किए गए जेएनयू छात्र शरजील इमाम को 5 दिन के लिए दिल्‍ली पुलिस की हिरासत में भेज दिया. शरजील इमाम को यहां मजिस्ट्रेट अदालत में पेश किया गया. पटियाला हाउस अदालत परिसर में कुछ वकीलों ने देशद्रोही कहते हुए नारे लगाए. कुछ वकीलों ने शरजील के खिलाफ नारेबाजी की और उनके हाथों में मौजूद पोस्टरों में उसे ‘देशद्रोही’ कहा गया था. उन्होंने उसे फांसी देने की मांग की.

दिल्ली की पटियाला हाउस अदालत परिसर में बुधवार को तनावपूर्ण माहौल रहा. अदालत परिसर के बाहर सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए. बता दें कि जामिया मिल्लिया इस्लामिया और अलीगढ़ में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में मंगलवार को बिहार के जहानाबाद से शरजील इमाम को से गिरफ्तार किया गया था.

एक वकील ने कहा, ”हम यहां उसके खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए हैं, जो देश को तोड़ने की बात करता है. सभी वकील ऐसे देशद्रोहियों के खिलाफ एकजुट हैं. उसे जेल से बाहर रहने का हक नहीं है. उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए.

शरजील इमाम के सीएए के विरोध में प्रदर्शनों के दौरान दिए गए भाषण के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उस पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया गया. भाषण में उसे यह कहते हुए सुना गया कि असम और पूर्वोत्तर को भारत से काटना है. इससे पहले उत्तरप्रदेश के अलीगढ़ के एएमयू परिसर में भाषण देने के लिए उस पर इन्हीं आरोपों में मामला दर्ज किया गया था. दिल्ली पुलिस ने उसके खिलाफ 25 जनवरी को मामला दर्ज किया था.