वाशिंगटन: अमेरिकी सांसदों ने महात्मा गांधी की याद में कार्यक्रम आयोजित करने के लिए उनकी 150वीं जयंती पर कांग्रेस में द्विदलीय प्रस्ताव पेश किया. सीनेट में टेड क्रूज और रोबर्ट मेनेंदेज ने इसे पेश किया जबकि प्रतिनिधि सभा में कांग्रेस की सदस्य ग्रेस मेंग ने इसे पेश किया.

सीनेट में पेश किए गए प्रस्ताव में कहा गया कि ब्रिटेन से भारत की आजादी के लिए गांधी ने दशकों संघर्ष किया और राजनीतिक बदलाव के लिए अहिंसक प्रदर्शनों का प्रयोग करने की शुरुआत की जिनकी मदद से लाखों भारतीयों को आजादी मिली और डॉ़ मार्टिन लूथर किंग समेत विश्वभर के शांतिप्रिय कार्यकर्ताओं को प्रेरणा मिली.

साबरमती में बोले प्रधानमंत्री- भाग्यशाली हूं कि गांधी के सपने को पूरा होते हुए देख रहा हूं

प्रस्ताव में अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के लक्ष्यों और आदर्शों को समर्थन दिया गया है और सभी अमेरिकियों से यह दिवस मनाने की अपील की गई है. इस बीच, कांग्रेस की भारतीय अमेरिकी सदस्य प्रमिला जयपाल ने ट्वीट किया, ‘‘गांधी की 150वीं जयंती पर, मैं मेरी जन्मभूमि और जिस भूमि को अब मैं अपना घर कहती हूं, उनमें अहिंसा और सविनय अवज्ञा की उनकी शिक्षाओं की महान विरासत का जश्न मना रही हूं.’’

कांग्रेस के सदस्यों एंडी लेविन, एलियट एंगेल, अमेरिकी अंतराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता आयुक्त टोनी पर्किन्स, यूएससीआईआरएफ आयुक्त अरुणिमा भार्गव समेत कई हस्तियों ने गांधी की जयंती पर उन्हें याद किया.

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर पंजाब, हरियाणा में शांति मार्च का आयोजन