नई दिल्ली: कानून मंत्रालय के डिप्टी सेक्रेटरी स्तर के एक अधिकारी और उनके पिता कोरोना संक्रमित मिले हैं. रोहिणी के सेक्टर-13 में रहने वाले अधिकारी ने खुद व्हाट्सऐप के जरिए मंत्रालय के दूसरे अधिकारियों को इस बारे में मंगलवार को जानकारी दी. जिसके बाद मंत्रालय के चौथे तल का हिस्सा सील कर दिया गया है. अब शास्त्री भवन को सेनिटाइज किया जा रहा है. चौथे तल तक जाने वाले लिफ्ट को भी बंद कर दिया गया है. Also Read - मुश्किल वक्त में प्रवासी मजदूरों के साथ हर समय खड़ी है समाजवादी पार्टी, हर संभव करेंगे मदद : अखिलेश यादव

मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक, डिप्टी सेक्रेटरी स्तर के संबंधित अधिकारी आखिरी बार 23 अप्रैल को मंत्रालय आए थे. इसके बाद उन्होंने पिता की बीमारी का हवाला देते हुए एक मई तक की छुट्टी ली थी. उनके पिता एलएनजेपी हास्पिटल के आईसीयू में भर्ती हैं. मंगलवार को उन्होंने वाट्सअप कर सहयोगियों को बताया कि वह और उनके पिता की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट मिली है. जिसके बाद मंत्रालय में चौथे तल को सील कर दिया है. हालांकि अधिकारी को माइल्ड सिम्प्टम्स यानी हल्के लक्षण मिले हैं. Also Read - Coronavirus Latest News: विश्व में 64 लाख से ज्यादा लोग कोविड-19 के शिकार, लगभग चार लाख लोग गवां चुके जान

डिप्टी सेक्रेटरी के ऑफिस आने के दौरान उनके संपर्क में पर्सनल असिस्टेंट, लीगल कंसल्टेंट सहित तीन स्टाफ आए थे जिन्हें क्वारंटाइन कर दिया गया है. मंत्रालय के जेएस डॉ. राजीव के हवाले से जारी सूचना के मुताबिक कोरोना से बचाव के लिए सभी एहतियातन उपाय किए जा रहे हैं. डिप्टी सेक्रेटरी को अपनी छुट्टी बढ़ाने के लिए कहा गया है.