लखनऊ: यूपी पुलिस में लखनऊ में पोस्‍टेड एक महिला कॉन्‍स्‍टेबल ने एक वीडियो क्‍ल‍िप सोशल मीडिया में शेयर किया है, जिसमें उसने अपने सीनियर अफसरों पर यौन उत्‍पीड़न का आरोप लगाया है. Also Read - UP पुलिस ने पूर्व एमपी धनंजय सिंह की तलाश में लखनऊ से दिल्ली तक छापे मारे

वीडियो में महिला कॉन्‍स्‍टेबल यूनिफॉर्म में रोते हुए दिखाई दे रही है और कह रही है, “जब मैं अपने ही पुलिस विभाग में सुरक्षित नहीं हूं, तो मैं अन्य पीड़ितों को कैसे सांत्वना दे सकती हूं? जब मैं खुद पीड़ित हूं, तो मैं अन्य पीड़ितों के लिए न्याय सुनिश्चित करने के बारे में कैसे सोच सकती हूं?” न्याय नहीं मिला? ” Also Read - Encounter in UP: प्रयागराज में यूपी STF ने मुख्‍तार अंसारी गैंग के दो शूटरों को किया ढेर

महिला कॉन्‍स्‍टेबल ने कहा कि लखनऊ में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पीआरओ ने उसे अधिकारी से मिलने और उसकी शिकायत की अनुमति नहीं दी, और आरोप लगाया कि पीआरओ आरोपी अधिकारी का समर्थन कर रहा है. Also Read - Honour Killing in UP : बेटी के प्रेम प्रसंग से गुस्‍साया पिता सिर काटकर लिए हुए पुलिस थाने पहुंचा

गुरुवार शाम जैसे ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, पुलिस विभाग हरकत में आ गया.

पुलिस अधिकारियों ने जांच का आदेश दिया है और एसपी रैंक की अधिकारी रुचिता चौधरी को आरोपों की जांच करने और तीन दिनों के भीतर अपनी रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है.