लखनऊ: यूपी पुलिस में लखनऊ में पोस्‍टेड एक महिला कॉन्‍स्‍टेबल ने एक वीडियो क्‍ल‍िप सोशल मीडिया में शेयर किया है, जिसमें उसने अपने सीनियर अफसरों पर यौन उत्‍पीड़न का आरोप लगाया है.

वीडियो में महिला कॉन्‍स्‍टेबल यूनिफॉर्म में रोते हुए दिखाई दे रही है और कह रही है, “जब मैं अपने ही पुलिस विभाग में सुरक्षित नहीं हूं, तो मैं अन्य पीड़ितों को कैसे सांत्वना दे सकती हूं? जब मैं खुद पीड़ित हूं, तो मैं अन्य पीड़ितों के लिए न्याय सुनिश्चित करने के बारे में कैसे सोच सकती हूं?” न्याय नहीं मिला? ”

महिला कॉन्‍स्‍टेबल ने कहा कि लखनऊ में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पीआरओ ने उसे अधिकारी से मिलने और उसकी शिकायत की अनुमति नहीं दी, और आरोप लगाया कि पीआरओ आरोपी अधिकारी का समर्थन कर रहा है.

गुरुवार शाम जैसे ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, पुलिस विभाग हरकत में आ गया.

पुलिस अधिकारियों ने जांच का आदेश दिया है और एसपी रैंक की अधिकारी रुचिता चौधरी को आरोपों की जांच करने और तीन दिनों के भीतर अपनी रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है.