नई दिल्ली: पेट्रोल डीजल पर उत्पाद शुल्क प्रति लीटर तीन रुपये बढ़ाने के केन्द्र सरकार के कदम की आलोचना करते हुए आम आदमी पार्टी ने शनिवार को कहा कि देश में कार चलाना हवाई जहाज (विमान) उड़ाने से भी महंगा हो गया है. Also Read - आम आदमी पार्टी और TMC ने राज्यसभा में दिया नोटिस, दिल्ली हिंसा पर चर्चा कराने की मांग

आप नेता राघव चड्ढा ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘पिछले कुछ साल में केन्द्र ने उत्पाद शुल्क करीब 12 बार बढ़ाए हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम ऐसे वक्त में हैं जब हमारी अर्थव्यवस्था में विमान ईंधन की कीमत प्रति लीटर पेट्रोल और डीजल की कीमत से सस्ती है.’’ Also Read - क्या आम आदमी पार्टी में शामिल होंगे सिद्धू? भगवंत मान बोले- सबसे पहले मैं स्वागत करूंगा

बता दें कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतों में गिरावट से लाभ लेने के प्रयासों के तहत सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर तीन रुपये प्रति लीटर की दर से उत्पाद शुल्क बढ़ा दिया है. एक आधिकारिक अधिसूचना में कहा गया है कि पेट्रोल पर विशेष उत्पाद शुल्क प्रति लीटर दो रुपये बढ़ाकर आठ रुपये कर दिया है तो वहीं डीजल पर यह शुल्क दो रुपये बढ़कर अब चार रुपये प्रति लीटर हो गया है.

इसके अलावा पेट्रोल और डीजल पर लगने वाला सड़क उपकर भी एक-एक रुपये प्रति लीटर बढ़ाकर 10 रुपये कर दिया गया है. उत्पाद शुल्क में बढ़ोतरी का नतीजा सामान्य तौर पर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि के रूप में सामने आता है लेकिन यह अंतरराष्ट्रीय दरों में गिरावट के हिसाब से समायोजित हो जाएगी और कीमतों में इजाफा नहीं होगा उत्पाद शुल्क बढ़ाने के बाद सरकार का भी यही कहना है कि इससे जनता पर किसी भी प्रकार का बोझ नहीं आएगा .