जींद: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि उनकी पार्टी जींद विधानसभा उपचुनाव नहीं लड़ेगी. उन्होंने हालांकि कहा कि आम आदमी पार्टी अकेले अपने बूते हरियाणा में लोकसभा और विधानसभा चुनाव लड़ेगी. केजरीवाल ‘जाटलैंड’ के नाम से मशहूर में अग्रवाल समाज द्वारा आयोजित परिचय सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि भाग लेने के लिए आए थे. Also Read - कोरोना से लड़ने के लिए क्या है दिल्ली के सीएम केजरीवाल का 5T प्लान, आखिर कहां से आया ये आइडिया?

यह कार्यक्रम पूरी तरह से सामाजिक था और इसमें हरियाणा के अलावा पड़ोसी राज्यों के हजारों लोग जुटे हुए थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि विभिन्न नेताओं ने जींद के लोगों का राजनीतिक रूप से इस्तेमाल किया है. उन्होंने केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि पंचायती विकास मंत्री होने के बावजूद सिंह ने कभी भी पंचायतों को मजबूत करने की बात नहीं की. Also Read - गौतम गंभीर के आरोपों पर बोले केजरीवाल- रुपये की कमी नहीं है, रक्षात्मक उपकरणों की कमी है समस्या

राजस्थान विधानसभा चुनाव से पहले जयपुर की तीन बड़ी परियोजनाओं का होगा उद्घाटन, तैयारी जोरों पर Also Read - COVID-19: दिल्ली सरकार की मदद को आगे आए गौतम गंभीर, फिर किया लाखों रुपये का दान

उन्होंने कहा कि आप हरियाणा में न केवल पंचायतों को मजबूत करने की पक्षधर है बल्कि सत्ता में आने के बाद गावों के विकास का खाका पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा ही तैयार किया जाएगा. उन्होंने कहा कि आप की सरकार में पंचायतों को अधिक अधिकार देकर उन्हें मजबूत बनाया जाएगा.