नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कार्यालय के बाहर उन पर लाल मिर्च का पाउडर फेंके जाने की घटना के बाद उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भाजपा पर मुख्‍यमंत्री के खिलाफ साजिश करने का आरोप लगाया है. सिसोदिया ने कहा कि सीएम पर हमले के लिए भाजपा ने दिल्ली पुलिस के साथ मिलकर साजिश रची है. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा की ‘‘ओछी चाल’’ के आगे उनकी पार्टी नहीं झुकेगी. Also Read - दिल्‍ली पुलिस ने निजामुद्दीन में तबलीगी जमात की अगुवाई करने वाले मौलाना के खिलाफ केस दर्ज

आम आदमी पार्टी (आप) ने इस हमले को ‘राजनीति से प्रेरित’ बताया और आरोप लगाया कि हमलावर नारायणा इलाके के भाजपा नेता के साथ जुड़ा हुआ है. सिसोदिया ने कहा, ‘‘हैरानी की बात है कि उच्च सुरक्षा वाले क्षेत्र में यह हमला हुआ. मुख्यमंत्री पर इस तरह के सिलसिलेवार हमले हुए हैं. हाल में भाजपा के दिल्ली प्रमुख मनोज तिवारी, भाजपा के गुंडों के साथ सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन के दौरान मंच के पास पहुंच गए थे और उन पर पानी की बोतलें फेंकी गईं. Also Read - कांग्रेस ने सामूहिक पलायन पर सरकार से पूछे सवाल, कहा- गरीबों की जिंदगी मायने रखती है या नहीं

आयकर विभाग ने बदले नियम, पैन कार्ड के लिए आवेदन में अब पिता का नाम जरूरी नहीं Also Read - विदेश में हैं बच्‍चे, लॉकडाउन में अकेले रह रहे बुजुर्ग दंपति के लिए देवदूत बन गई दिल्‍ली पुलिस

सिसोदिया ने कहा कि मुख्यमंत्री सुरक्षित हैं और उन्हें कोई शारीरिक क्षति नहीं पहुंची है. उपमुख्यमंत्री ने सुरक्षा को लेकर दिल्ली पुलिस की आलोचना की और सवाल किया कि क्या होता अगर व्यक्ति के पास लाल मिर्च के पाउडर की जगह हथियार होता. सिसोदिया ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मुख्यमंत्री पर हमले के लिए भाजपा दिल्ली पुलिस के साथ साजिश कर रही है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम भाजपा के गुंडों से नहीं डरते.’’

अब अखिलेश ने साधा कांग्रेस पर निशाना, कहा बसपा को साथ लेते तो मप्र में होता हमारा गठबंधन

आप की दिल्ली इकाई के प्रमुख गोपाल राय ने कहा कि हमले के खिलाफ पार्टी बुधवार को भाजपा मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन करेगी. पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया कि पुलिस मुख्यमंत्री पर हमले की गंभीरता को कम करने का प्रयास कर रही है. उन्होंने दावा किया कि हमलावर का संबंध नारायणा के एक भाजपा नेता से है.

सीबीआई विवाद: गोपनीय जवाब, आरोप लीक होने से खफा सुप्रीम कोर्ट, कहा सुनवाई के पात्र नहीं हैं फरियादी

भारद्वाज ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘दिल्ली पुलिस के एसएचओ ने मीडिया में फैलाया कि हमला नहीं हुआ. मिर्च का पैकेट अनजाने में फर्श पर गिर गया. अब आप समझ सकते हैं कि साजिश की जड़ें कितनी गहरी हैं.’’