नई दिल्ली: विवादों में रहे आम आदमी पार्टी एमएलए सोमनाथ भारती अब अपनी पत्‍नी से सुलह करना चाहते हैं. दरअसल, घरेलू हिंसा मामले से घिरे आप नेता सोमनाथ भारती अपने वकील माध्यम से शुक्रवार को दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचे. उन्‍होंने कोर्ट से कहा कि वह अपनी पत्नी के साथ वैवाहिक विवाद हल करने की इच्छा लेकर कोर्ट आए हैं.

भारती की इच्छा जानने के बाद जस्टिस अनु मल्होत्रा ने कहा कि कोर्ट उनकी पत्नी की राय जाने बगैर सीधे उन्हें मध्यस्थता के लिए भेज नहीं सकती. जस्टिस अनु मल्होत्रा ने कहा, ‘मैं कैसे जानती हूं कि उन्होंने (आपकी पत्नी ने) मध्यस्थता की हामी भरी है? सुनवाई की अगली तारीख 20 मार्च को भारती की पत्नी लिपिका मित्रा को कोर्ट में पेश होना होगा.’

भारती के वकील आशीष नेगी ने अदालत में कहा कि उनके मुवक्किल अपनी पत्नी से घरेलू विवाद हल करने को इच्छुक हैं इसलिए इस दंपति को मध्यस्थता से साथ बैठकर इस पर विचार करने का मौका दिया जाना चाहिए.

पत्‍नी ने दर्ज कराया था घरेलू हिंसा का मामला
दिल्ली के पूर्व कानून मंत्री भारती पर उनकी पत्नी ने घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कराया था. इसके बाद जब एमएलए भारती को निचली कोर्ट ने 7 अक्‍टूबर, 2015 को बेल दे, दी तब उनकी पत्नी ने इस आदेश को चुनौती दी थी. इसके बाद भारती ने यह अर्जी लगाई है.

पत्‍नी ने लगाए थे गंभीर आरोप
जांचकर्ताओं ने 5 अप्रैल, 2016 को निचली अदालत में दायर आरोपपत्र में कहा कि आरोपी भारती पर पत्नी ने आरोप लगाया कि पति ने उसके पीछे कुत्ता छोड़कर उनके गर्भ में पल रहे बच्चे की जान खतरे में डाल दी थी. भारती ने इन आरोपों का खंडन किया.