लखनऊ-आगरा यमुना एक्सप्रेस वे पर सोमवार तड़के एक भीषण सड़क हादसा हो गया. लखनऊ से दिल्ली की तरफ आ रही एक डबल डेकर बस आगरा के पास एक्सप्रेस वे से फिसलकर एक नाले में गिर गई. इस हादसे में 29 लोगों की मौत हो गई. हादसे में कई अन्य यात्रियों के गंभीर रूप से घायल होने की सूचना है. आगरा जिला प्रशासन राहत और बचाव कार्य में जुट गया है.

राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर गहरा दुख जताया है. उन्होंने जिला अधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से घायल लोगों को हर संभव इलाज मुहैया कराने का आदेश दिया है. यूपी रोडवेज ने मारे गए लोगों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की है. हादसे की शिकार हुई बस का नंबर UP338D5877 है. हादसे की जानकारी मिलते ही स्थानीय प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए. घायलों को आगरा के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है. बस में कम से कम 50 लोग सवार थे. अधिकारियों ने बताया कि खाई में पानी भरे होने की वजह से राहत बचाव कार्य में मुश्किल आ रही है. साथ ही कहा कि अभी तक हादसे की वजह का पता नहीं चल सका है.

डीएम एनजी रवि कुमार ने बताया कि लखनऊ से दिल्ली के आनंद विहार बस अड्डे जा रही बस यमुना एक्सप्रेसवे पर रेलिंग तोड़ते हुए नाले में जा गिरी. हादसे में घायल हुए लोगों को जिले के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती करवाया गया है. वहीं अब तक 29 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है जिनके शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. ऐसा माना जा रहा है कि बस चालक की आंख लगने की वजह से यह हादसा हुआ. लोगों के सामान से मृतकों की शिनाख्त करने की कोशिश की जा रही है.