हैदराबाद: हिंदू देवी-देवताओं को लेकर अपमानजनक टिप्पणी करने वाले तेलुगू अभिनेता एवं फिल्म समीक्षक काथी महेश के हैदराबाद में घुसने पर छह माह की रोक लगा दी गई है. पिछले महीने कुछ हिंदू संगठनों ने महेश पर भगवान राम और सीता के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने की शिकायत दर्ज कराई थी. फिल्मकार ने यह टिप्पणी एक स्थानीय चैनल पर चर्चा के दौरान की थी. पुलिस ने बताया कि शिकायत के आधार पर महेश के खिलाफ आईपीसी की धारा 295 ए के तहत मामला दर्ज किया गया था और दो जुलाई को उनसे पूछताछ भी की गई थी.

पुलिस के महानिदेशक (डीजीपी) एम महेंद्र रेड्डी ने कहा, ” तेलंगाना असामाजिक एवं खतरनाक गतिविधि रोकथाम अधिनियम के तहत काथी महेश के छह माह तक हैदराबाद में रहने पर रोक लगा दी गई है.” डीजीपी ने कहा, ”उन्होंने कई मौकों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है जिससे एक बड़े वर्ग के लोगों की भावनाएं आहत हुईं और जनजीवन भी प्रतिकूल रूप से प्रभावित किया.”

डीजीपी रेड्डी ने बताया कि महेश को हैदराबाद से ले जाकर उनके पैतृक स्थान आंध्र प्रदेश के चित्तूर छोड़ दिया गया है. बता दें कि काथी महेश बीजेपी के खिलाफ भी सोशल मीडिया में काफी हमले करते रहे हैं और वह दलित राजनीति के बड़े समर्थक हैं. देश के अन्य दलित नेताओं से वे अक्सर मुलाकात भी करते थे. सोशल मीडिया में भी कई बार वे सवर्ण विरोधी और हिंदू विरोधी पोस्ट करते रहें हैं.

(इनपुट- एजेंसी)