नई दिल्लीः आज देशभर के कोरोनावॉरियर्स को सम्मान देने का दिन है. भारतीय सेना कोरोना के संकट के समय फ्रंटलाइन वारियर्स को सैल्यूट कर रही है. दिल्ली के पुलिस मेमोरिय पर भारतीय सेना के फाइटर हेलीकॉप्टर ने फूल बरसाकर कोरोना वारियर्स को धन्यवाद दिया. इस मौके पर सीडीएस बिपिन रावत के साथ सेना के तीनों अंगों के प्रमुख मौजूद रहे. आज पूरे देश में हमारी सेना कोविड-19 वारियर्स का उत्साह बढ़ा रही है. Also Read - छत्तीसगढ़ में Coronavirus के 15 नए केस, कुल आंकड़ा, 307 लेकिन कोई भी मौत नहीं

पुलिस मेमोरियल पर पहले सेना के तीनों अंगों के सेनाध्यक्षों ने देश के लिए सेवा करके हुए अपने प्राण गवानें वाले वीर सपूतों को याद किया और उन्हें सलामी दी. Also Read - देश में 60,490 कोरोना मरीज ठीक हुए, रिकवरी रेट में सुधार जारी; मृत्यु दर 3.3% से घटकर 2.87% हुई: स्वास्थ्य मंत्रालय

कोरोना वारियर्स को सम्मान देने की शुरुआत श्रीनगर के डल झील से शुरू हुई . इसके बाद सेना के जहाज चंडीगढ़ पहुंचे. राजधानी में सबसे पहले पुलिस मेमोरियल पर सेना द्वारा पुष्प वर्षा की गई. इससे पहले सेना प्रमुखों और जनरल बिपिन रावत द्वारा शहीद जवानों को सलामी दी गई. इसके बाद पुलिस मेमोरियल पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा की गई.

पुलिस मेमोरियल के बाद सेना द्वारा  दिल्ली के कई अस्पतालों पर पुष्प वर्षा की जाएगी. यह ऐसा पहला मौका है जब देश के अस्पतालों के उपर फाइटर प्लेन और हेलीकॉप्टर ने पुष्प वर्षा करने वाले हैं. आज देशभर में अस्पतालों के बाहर बैंड द्वारा भी कोरोना वारियर्स को सम्मान दिया जा रहा है..

हरियाणा में भी कोरोना वायरियर्स को सम्मान दिया गया. हरियाणा के पंचकुला में हेलीकॉप्टर द्वारा एम्स के डॉक्टर्स को सम्मान दिया गाय.

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ मे भी किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज में हेलिकॉप्टर द्वारा पुष्प वर्षा करके डॉक्टर्स सहित दूसरे कोरोना वॉरियर्स को सम्मान किया गया.

मुंबई के मरीन ड्राइव के उपर से भी भारतीय सेना के जहाजों ने उड़ान भरी और महाराष्ट्र में कोरोना की लड़ाई में दिन रात लगे रहने वाले कोरोवा वॉरियर्स को सम्मान दिया.

दिल्ली के अस्पातल के ऊपर से तीन फाइटर प्लेन ने फूल बरसाए हैं. दिल्ली के अस्पतालों में जिन विमानों ने फूल बरसाए उनमें दो विमान श्रीनगर से और एक हिण्डन एयरबेस से शामिल हुआ था. ये सभी विमान आज उत्तर  से लेकर दक्षिण तक दूरी तय करेंगे.

अब कुछ देर बाद दिल्ली के कुल 12 अस्पतालों पर पुष्प वर्षा की जाएगी. इनमें विमान एम्स, दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल, गुरु तेग बहादुर अस्पताल, लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल, राम मनोहर लोहिया अस्पताल, सफदरजंग, सर गंगा राम अस्पताल, बाबा साहेब आंबेडकर अस्पताल, साकेत स्थित मैक्स अस्पताल, अपोलो इन्द्रप्रस्थ अस्पताल और आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल शामिल हैं.

आज देशभर में अलग अलग स्थानों पर सेना द्वारा कोरोना की लड़ाई में शामिल सभी लोगों चाहे वह डॉक्टर्स हो, पुलिसकर्मी हो या फिर एक सफाई कर्मी हो को सेना सम्मान दे रहे हैं. सेना का कहना है कि जिस तरह  से हम सरहद में आतंकवाद से देश को बचाते हैं वैसे ही देश के अंदर डाक्टर्स सहित अन्य लोग एक ऐसे दुश्मन से लड़ रहे हैं जिसकी कोई पहचान नहीं है. देश के अलग अलग अलग हिस्सों से विहंगम दृश्य सामने आ रहे हैं.

कोरोना वायरस महामारी के संकट के दौर में अपने परिवार से दूर रहकर और अपनी जान की चिंता किए बिना ये कोरोना वारियर्स दिन रात देश की सेवा में लगे हुए हैं ताकि देश को जल्द से जल्द कोरोना से मुक्त बनाया जा सके. तीनों सेनाओं के कर्मवीर अस्पताल में कार कर रहे कोरोना वीरों को सलामी दे रहे हैं. इसके लिए उत्तर से लेकर दक्षिण तक और पूर्व से लेकर पश्चिम तक डॉक्टर्स का सम्मान किया जाएगा.