कोलकाता: भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार को कहा कि राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) को पश्चिम बंगाल में लागू किया जाएगा और एक भी हिंदू को देश नहीं छोड़ना पड़ेगा. बंगाल में भाजपा के रणनीतिकार विजयवर्गीय ने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) का नाम लिए बिना कहा कि कुछ राजनीतिक दल और राजनीतिक एनआरसी पर भ्रम फैला कर आम लोगों के बीच डर पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं.

असम: एनआरसी में नाम नहीं होने की अफवाह के बाद की महिला ने क‍िया सुसाइड

उन्होंने यहां एक कार्यक्रम में कहा, “भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव के तौर पर मैं आप सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि एनआरसी को लागू किया जाएगा लेकिन किसी भी हिंदू को देश नहीं छोड़ना होगा. प्रत्येक हिंदू को नागरिकता दी जाएगी.” उन्होंने टीएमसी की ओर इशारा करते हुए कहा, “कुछ लोग हैं जो असत्य फैलाने और लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं.”

लॉ की छात्रा को सारे वीडियो दिखाए, आवाज सुनाई.. पर्याप्त सबूतों के बाद गिरफ्तार किया: एसआईटी चीफ

राज्य में एनआरसी लागू होने की अटकलों के बीच सैकड़ों लोग जन्म प्रमाण-पत्र और जरूरी दस्तावेज लेने यहां और पश्चिम बंगाल के तमाम अन्य हिस्सों में सरकारी एवं नगर निगम कार्यालयों के बाहर कतार में खड़े देखे जा रहे हैं. टीएमसी सरकार की ओर से इसे लागू नहीं करने के आश्वासन के बावजूद लोग भाग-दौड़ कर रहे हैं. पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी पहले ही कह चुकी हैं कि वह अपने राज्य में एनआरसी लागू नहीं होने देंगी. भाजपा शासित असम में एनआरसी की अंतिम सूची से बड़ी संख्या में बंगालियों के नाम नहीं शामिल होने से लोगों में अफरा-तफरी का माहौल है और इससे राज्य में अब तक आठ लोगों की मौत हो चुकी है.

ममता बनर्जी ने BJP को किया आगाह, कहा- एनआरसी के नाम पर आग से नहीं खेले