नई दिल्‍ली: राज्यसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को जम्‍मू-कश्‍मीर पर बयान दिया है. गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को राज्यसभा में कहा कि जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा हटाए जाने के बाद पुलिस की गोली से एक भी व्यक्ति की जान नहीं गई है और स्थानीय प्रशासन द्वारा उपयुक्त स्थिति पाए जाने के बाद वहां जल्द ही इंटरनेट सेवा बहाल कर दी जाएगी. प्रश्नकाल के दौरान शाह ने कश्मीर के हालात के बारे में पूछे गए पूरक प्रश्नों के जवाब में कहा कि पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर में, विशेष राज्य का दर्जा हटाए जाने के बाद पुलिस की गोलीबारी में किसी की जान नहीं गई.

उच्च सदन में गृह मंत्री ने कहा, ”वहां स्थिति हमेशा से ही सामान्य है. दुनिया भर में कई तरह की बातें चल रही हैं. वहां स्थिति पूरी तरह सामान्य है. पांच अगस्त के बाद पुलिस की गोलीबारी में एक भी व्यक्ति की जान नहीं गई. हालांकि, कई लोगों को आशंका थी कि वहां खूनखराबा होगा तथा लोगों की जान जा सकती है.”

गृह मंत्री ने कहा कि 5 अगस्त के बाद (जम्मू-कश्मीर में आर्टिफ़िश 370 का उन्मूलन) पुलिस फायरिंग में एक भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई है. इस सदन में लोग खून खराबे की भविष्यवाणी कर रहे थे, लेकिन मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि पुलिस फायरिंग में किसी की मौत नहीं हुई है. पथराव की घटनाओं में गिरावट आई है.

राज्‍य सभा में शाह ने का, जहां तक इंटनेट सेवाओं का संबंध है, जम्‍मू-कश्‍मीर की अॅथारिटी इस पर फैसला ले सकती हैं. कश्‍मीर में पाकिस्‍तान की भी गतिविधियां हैं, इसलिए सुरक्षा का ध्‍यान रखते हुए स्‍थानीय अथारिटी इस के लिए तैयार हैं और एक निर्णय ले लिया जाएगा.

गृह मंत्री शाह ने कहा कि राज्‍य में दवाईयों की पर्याप्‍त उपलब्‍धता है, वहां कोई समस्‍या नहीं है. मोबाइल मेडिसिन वैन भी शुरू की गईं हैं. प्रशासन स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं का ध्‍यान रखे हुए हैं.

राज्‍यसभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, पेट्रोल, डीजल, केरोसिन, एलपीजी और चावल की पर्याप्‍त उपलब्‍धता है. 22 लाख मीट्रिक टन सेव का उत्‍पादन होने की उम्‍मीद है. सभी लैंड लाइन चालू हैं.

शाह ने कहा, मैं गुलाम नबी आजाद साहब को इन तथ्‍यों का मुकाबला करने के लिए चुनौती देता हूं, आप रिकॉर्ड में आए इन आंकड़ों पर आपत्ति क्‍यों नहीं उठाते हो? मेरी इच्‍छा है कि इस विषय पर एक घंटे डिस्‍कस करूं.

शाह ने कहा, सभी उर्दू, इंग्‍लिश, हिंदी अखबार और टीवी चैनल चल रहे हैं, बैंकिंग सेवाएं भी पूरी तरह से संचालित हैं. सभी सरकारी ऑफिस और अदालतें खुला हैं. ब्‍लॉक डेवलपमेंट काउंसिन इलेक्‍टशन हुए थे, 98.3 फीसदी वोटिंग रिकॉर्ड हुई थी.