ढेंकनाल : बिहार के शेल्‍टर होम्‍स में लड़कियां के यौन उत्‍पीड़न का मामला अभी ठंडा नहीं हुआ. सुप्रीम कोर्ट ने इसकी जांच अब सीबीआई के हवाले कर दी है, लेकिन इसी बीच ओडिशा से भी ऐसी ही शिकायत मिली है. ढेंकनाल शहर के बाहरी क्षेत्र में स्थित एक शेल्‍टर होम में रहने वाली नाबालिग लड़कियों ने इसके प्रभारी पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. लड़कियों की शिकायत के बाद प्रभारी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

पुलिस ने बताया कि घटना का पता तब चला जब कुछ लड़कियों ने मीडिया से बातचीत में हाल में आश्रय गृह के प्रभारी पर आरोप लगाया. लड़कियों ने कहा था कि प्रभारी सीमांचल नायक पिछले दो साल से उनका यौन उत्पीड़न कर रहा है, उन्हें शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहा है. उन्होंने डर और शर्म की वजह से किसी को यह बात नहीं बताई. पुलिस ने कहा कि आश्रय गृह में 80 से अधिक लड़कियां और लड़के हैं.

सबरीमाला: महिलाओं को मंदिर में प्रवेश से रोकने पर 3 गिरफ्तार, विरोध के बाद पुलिस ने की कार्रवाई

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि मीडिया में आई खबरों पर कार्रवाई करते हुए जिला बाल संरक्षण अधिकारी अनुराधा गोस्वामी और जिला बाल कल्याण समिति के सदस्यों ने ढेंकनाल शहर के बाहरी इलाके बेलटिकरी स्थित आश्रय गृह पर शुक्रवार को छापा मारा था. उन्होंने बताया कि गोस्वामी ने इस संबंध में सदर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. नायक को गिरफ्तार कर लिया गया है.

राहुल पर बरसीं सुषमा स्‍वराज, कहा- वो इतने ज्ञानी नहीं कि हिंदू होने का मतलब उनसे सीखें

ढेंकनाल के उपमंडल पुलिस अधिकारी अब्दुल करीम ने कहा कि मामले में जांच शुरू कर दी गई है और आश्रय गृह के मालिक एवं प्रबंध निदेशक फैयाज रहमान को पकड़ने के प्रयास जारी हैं. इस बीच, नायक ने लड़कियों द्वारा लगाए गए आरोपों से इनकार किया है और कहा कि लड़कियों ने आरोप इसलिए लगाया क्योंकि उसने शेल्‍टर होम में अनुशासन लागू करने की कोशिश की थी.