सिरसा। डेरा सच्चा सौदा ने वर्ष 2002 के बलात्कार मामले में अपने गुरु गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ सीबीआई अदालत के फैसले को ‘अन्यायपूर्ण’ करार देते हुए कहा कि वह फैसले के खिलाफ अपील करेगा. फैसला सुनाए जाने के बाद आज बड़े पैमाने पर जारी हिंसा के बीच डेरा प्रवक्ता दिलावर इंसा के हस्ताक्षर वाले बयान में शांति की अपील की गयी है.

बयान में लिखा है, ‘हमारे साथ अन्याय हुआ है, हम इसकी अपील करेंगे. हमारे साथ वही हुआ जो इतिहास में गुरुओं के साथ हुआ. डेरा सच्चा सौदा मानवता भलाई के लिए है. सभी शांति बनाए रखें. ‘

यह भी पढ़ेंः हाईकोर्ट का आदेश, राम रहीम की सारी संपत्ति बेचकर नुकसान की भरपाई

सीबीआई जज जगदीप सिंह ने वर्ष 2002 में अज्ञात व्यक्ति द्वारा दर्ज कराई गई लिखित शिकायत के आधार पर 50 वर्षीय डेरा सच्चा सौदा प्रमुख को दोषी ठहराया. शिकायत में राम रहीम पर दो महिला अनुयायियों के यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया गया था. 28 अगस्त को सजा का ऐलान किया जाएगा.

सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम के खिलाफ चल रहे यौन शोषण मामले में विशेष सीबीआई अदालत उन्हें दोषी करार दिया. जिसके बाद पंजाब-हरियाणा भयंकर उपद्रव शुरू हो गया है. हिंसा में अब तक 17 लोगों की मौत की खबर है और 200 से ज्यादा घायल हुए हैं. वहीं पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने बड़ा आदेश दिया है. राम रहीम की संपत्ति बेचकर हुए नुकसान की भरपाई की जाएगी. इसके लिए पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने डेरा सच्चा सौदा की संपत्ति का ब्योरा मांगा है.