लखनऊ: यौन उत्पीड़न के आरोप में गिरफतार पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद सोमवार रात संजय गांधी आर्युविज्ञान संस्थान से छुटटी मिलने के बाद आंख में दर्द की शिकायत लेकर किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी ”केजीएमयू” पहुंच गए. अस्पताल के डॉक्टरों ने हालांकि दवायें देकर उन्हें 16 अक्टूबर को जांच के लिये बुलाया. केजीएमयू के सूत्रों के अनुसार चिन्मयानंद पीजीआई से छुटटी मिलने के बाद केजीएमयू में आंख दर्द की शिकायत लेकर पहुंचे, उनके समर्थक चाहते थे कि स्वामी को वहां भर्ती कर लिया जाए.

केजीएमयू के मीडिया प्रभारी डॉ. संदीप तिवारी ने ‘भाषा’ को बताया कि स्वामी चिन्मयानंद कल देर शाम आंख में दर्द की शिकायत लेकर ट्रामा सेंटर पहुंचे थे. जहां डॉ अरुण शर्मा ने उनकी आंख की जांच की और उन्हें परीक्षण के लिये 16 अक्टूबर को बुलाया गया है. समर्थकों द्वारा उन्हें भर्ती किए जाने का दबाव बनाने के सवाल पर उन्होंने कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. इस पूरे ड्रामे के बाद आखिरकार वह देर रात करीब ढाई बजे शाहजहांपुर जेल पहुंचे.

गौरतलब है कि चिन्मयानंद को 23 सितंबर को सीने में दर्द तथा निम्न रक्तचाप की शिकायत के बाद संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती कराया गया था . उनकी ‘एंजियोग्राफी’ की गयी लेकिन कोई अवरोध नहीं पाया गया. स्वास्थ्य संबंधी अन्य समस्याओं के कारण वह अब तक पीजीआई में ही भर्ती थे .

(इनपुट भाषा)