देश में ईंधन के दाम में लगातार बढ़ोतरी के बीच अब इसका असर रोजमर्रा की चीजों पर पड़ने लगा है. पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से उत्तर प्रदेश के कई शहरों में सब्जियों के दाम बढ़ गए हैं. न्यूज एजेंसी एएनआई ने बताया कि यूपी के नोएडा में पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से सब्जियां महंगी हो गई है. यहां सब्जी विक्रेता ने बताया कि प्याज, आलू, बीन्स और फूल गोभी जैसी सब्जी महंगी हो गई हैं. गोभी पहले 20-25 रुपए किलो थी अब 40 का भाव हो गया है. बीन्स पहले 30-40 रुपए किलो थी अब 60 रुपए किलो हो गई है. विक्रेता ने कहा कि सब्जी महंगी होने से लोग भी कम खरीदारी कर रहे हैं.Also Read - Uttaran की Tina Datta की इन तस्वीरों ने मचाया तहलका, लोग बोले- टमाटर क्या भाव?

यूपी के ही प्रयागराज में भी सब्जियों के दाम में बढ़ोतरी हुई है. यहां मगंलवार को करैला 30-40, लौकी 15-20, भिंडी 20, परवल 40-50 रुपए किलो बेची गई है. बस्ती जिले में भी सब्जियों के दाम बढ़ गए हैं. यहां पिछले 15 दिनों में लॉकी, भिंडी, टमाटर, लौकी और बैगन के भाव में खूब बढ़ोतरी हुई है. यहां पिछले सप्ताह तक टमाटर 15 रुपए किलो था जो अब 40 रुपए किलो तक में बेचा जा रहा है. इसी तरह शिमला मिर्च, पालक, लौकी, गोभी की कीमतों में भी तीन गुना तक की बढ़ोतरी हुई है. Also Read - Vegetables and Fruits Export Hub: सब्जियों और फलों के निर्यात का हब बनेंगे वाराणसी और अमरोहा

Also Read - Inflation: खाद्य तेल में लगी आग, अनाज, दाल समेत आवश्यक वस्तुओं की महंगाई से बढ़ी आम आदमी की मुश्किलें

मालूम हो कि देश में तेल की कीमतों में बढ़ोतरी लगातार जारी है. हालांकि आज मंगलवार को ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी नहीं हुई. तेल विपणन कंपनियों ने बढ़ोतरी पर रोक लगा दी, जिससे लोगों को पहले से ही पेट्रोल और डीजल की खुदरा कीमतों में भारी बढ़ोतरी से राहत मिली. इस हिसाब से दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 96.41 रुपए प्रति लीटर और डीजल की कीमत 87.28 रुपए प्रति लीटर पर बनी हुई है.

देश भर में खुदरा स्तर को नई ऊंचाई पर ले जाने के लिए ओएमसी ने सोमवार को दो पेट्रोलियम उत्पादों की कीमत बढ़ा दी थी. मुंबई शहर में जहां 29 मई को पेट्रोल के दाम पहली बार 100 रुपए के पार चले गए, वहीं सोमवार को पेट्रोल का दाम 102.58 रुपये प्रति लीटर की नई ऊंचाई पर पहुंच गया. डीजल की कीमत भी बढ़कर 94.70 रुपए प्रति लीटर हो गई, जो महानगरों में सबसे ज्यादा है. मंगलवार को कीमतों के स्तर में कोई बदलाव नहीं हुआ है.

देश भर में भी पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि मंगलवार को रोक दी गई है, लेकिन कई राज्यों में स्थानीय करों के स्तर के आधार पर इसकी खुदरा कीमतें भिन्न थीं. मुंबई के अलावा तीन अन्य महानगरों में पेट्रोल की कीमतें पहले ही 100 रुपए प्रति लीटर के करीब पहुंच चुकी हैं और ओएमसी अधिकारियों ने कहा कि अगर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतों में तेजी जारी रही, तो यह आंकड़ा महीने के अंत तक अन्य स्थानों पर भी टूट सकता है. (एजेंसी इनपुट)