अहमदाबाद: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में पिछले सप्ताह हुए हमले की पृष्ठभूमि में खुफिया विभाग ने गुजरात में भी आतंकवादी हमले की चेतावनी दी है. इसके मद्देनजर राज्य सरकार ने सोमवार को सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने गांधीनगर में आयोजित एक बैठक में राज्य पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था और तैयारियों का जायजा लिया. उन्होंने नर्मदा जिले में स्थित स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, सरदार सरोवर बांध और सोमनाथ मंदिर सहित अन्य संवेदनशील जगहों की सुरक्षा के संबंध में शीर्ष अधिकारियों के विचार जाने. Also Read - आज गुजरात को कई परियोजनाओं की सौगात देंगे पीएम मोदी, ‘किसान सूर्योदय योजना’ को भी करेंगे शुरू

Also Read - नवरात्रि आयोजन को लेकर सीएम विजय रूपाणी ने कहा- जनता का स्वास्थ हमारे लिए बड़ी प्राथमिकता है

पुलवामा में 16 घंटे चली मुठभेड़ में जैश के 3 आतंकी ढेर, मेजर शहीद, ब्रिगेडियर, लेफ्टि. कर्नल और DIG घायल Also Read - तनिष्क स्टोर में घुसकर मालिक से कुछ लोगों ने मंगवाई माफ़ी, फ़ोन पर भी मिली धमकी

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि राज्य खुफिया विभाग की ओर से संभावित आतंकवादी हमले की चेतावनी मिलने के बाद गुजरात पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है. विभाग की ओर से यह चेतावनी 14 फरवरी के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के बाद जारी की गई है. हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए हैं.

अफसर के ‘थप्पड़’ से गिर पड़ा था पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड मसूद अजहर, उगल दिए थे राज

एक अन्य अधिकारी ने बताया कि यह एक सामान्य चेतावनी है जिसमें महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा कड़ी करने को कहा गया है. राज्य के मुख्य सचिव जे. एन. सिंह ने बैठक में कहा कि मुख्यमंत्री ने पुलिस द्वारा उठाए गए कदमों की समीक्षा की. सिंह के अलावा बैठक में राज्य के पुलिस प्रमुख शिवानंद झा, गृह सचिव एएम तिवारी, राज्य के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जडेजा सहित पुलिस तथा खुफिया विभाग के विभिन्न अधिकारी शामिल थे.