नई दिल्लीः अमेरिका के सप्ताह भर लंबे दौरे से वापस लौटने के बाद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2016 की सर्जिकल स्ट्राइक को याद किया और आज ही के दिन तीन वर्ष पहले पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर(पीओके) में घुसकर आतंकी शिविरों को तबाह करने के लिए चलाए गए बेहद जोखिम भरे अभियान के लिए विशेष बलों की प्रशंसा की. भारतीय सेना ने उरी में 18 सितंबर को आतंकी हमले का बदला लेने के लिए पीओके में घुसकर आतंकी शिविरों को तबाह कर दिया था. याद दिला दे कि उरी हमले में 18 भारतीय जवान शहीद हो गए थे.Also Read - जानिए क्या है Teleprompter और कैसे करता है काम? जिसे लेकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कसा तंज

PM मोदी बोले- विश्व मंच पर भारत के प्रति पिछले पांच सालों में और बढ़ा सम्मान Also Read - Coronavirus in india: पीएम मोदी ने सभी राज्य के मुख्यमंत्रियों से बात की, जानिए लॉकडाउन पर क्या कहा

मोदी ने कहा, “आज 28 सितंबर है, तीन साल पहले, आज ही के दिन, मैं पूरी रात सो नहीं पाया था, क्योंकि मैं फोन का इंतजार कर रहा था. आज ही के दिन भारतीय सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था, उन्होंने अपनी जान को दांव पर लगाते हुए अदम्य साहस का परिचय दिया था.” उन्होंने यह बयान शनिवार को अमेरिका की यात्रा के बाद स्वदेश लौटने पर पालम टेक्निकल हवाईअड्डे पर उनका स्वागत करने आए लोगों को संबोधित करते हुए दिया. Also Read - Tamil Nadu News Today: आज तमिलनाडु में 11 नए मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी, नया CICT कैंपस भी मिलेगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिकी दौरे के बाद स्वेदश पहुंचे, एयरपोर्ट पर हुआ भव्य स्वागत

अपने दौरे के बारे में उन्होंने कहा कि भारत का मान बढ़ा है, क्योंकि ‘130 करोड़ भारतीयों ने एक स्थिर और मजबूत सरकार चुनी है.’ मोदी ने कहा कि उनके अमेरिका दौरे के दौरान उन्होंने महसूस किया कि कैसे भारत के प्रति दुनिया का नजरिया 2014 से 2019 के बीच बदला है. मोदी ने ‘हाउडी मोदी’ समारोह के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि इस समारोह में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और दोनों देशों के प्रतिनिधियों ने मंच साझा किया था. इस समारोह ने भारत की ताकत का प्रदर्शन किया.