नई दिल्ली: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मंगलवार को कहा कि अगले सप्ताह विधानसभा के संभावित विशेष सत्र के बाद मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा. उन्होंने कहा कि भाजपा और जजपा नेताओं की एक समिति गठित की जाएगी, जो सत्तारूढ़ गठबंधन के न्यूनतम साझा कार्यक्रम तैयार करेगी.

हरियाणा के मुख्यमंत्री पद की दूसरी बार शपथ लेने के बाद राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे खट्टर ने यहां राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और भाजपा महासचिव (संगठन) बी एल संतोष से भेंट की. खट्टर ने रविवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. उनके साथ पूर्व उपप्रधानमंत्री देवीलाल के परपौत्र और जजपा नेता दुष्यंत चौटाला ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. भाजपा ने राज्य में जजपा के साथ मिल कर सरकार बनाई है.

खट्टर ने यहां उप राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद कहा, ‘‘राज्य विधानसभा के विशेष सत्र के बाद मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा. सरकार के लिए न्यूनतम साझा कार्यक्रम तैयार करने के वास्ते समिति बनाई जाएगी जिनमें भाजपा और जजपा दोनों दलों के नेता होंगे.’’

इसी बीच, दुष्यंत चौटाला ने कहा कि दोनों दल राज्य के कल्याण के लिए मिलकर काम करेंगे और सामूहिक रूप से निर्णय लेंगे. दुष्यंत चौटाला भी दिल्ली आ, हैं. विधानसभा का विशेष सत्र अगले सप्ताह बुलाए जाने की संभावना है. खट्टर ने नायडू को अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव का उद्घाटन करने का निमंत्रण भी दिया.

बता दें कि भाजपा के पास राज्य में सरकार बनाने के लिए छह सीटें कम थीं, इसलिए उसने जेजेपी के साथ मिल कर सरकार बनाने का समझौता शुक्रवार को किया था.

हरियाणा की 90 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा को 40 सीटें, जेजीपी को 10, कांग्रेस और 31, इनेलो और हरियाणा लोकहित पार्टी को एक एक सीटें मिली है. सात निर्दलीय भी विजयी हुए हैं.