दो दिन पहले मध्य प्रदेश की धार्मिक नगरी उज्जैन में आई भरी बारिश और आंधी की वजह से 6 लोगों की मौत हो गई थी, इसके साथ-साथ 50 से अधिक लोगों इस आंधी के चलते घायल हो गए थे। हाल ही में मौसम विभाग ने फिर एक बार तेज आंधी के साथ बारिश और बिजली गिरने की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के क्षेत्रीय कार्यालय के निदेशक अनुपम कश्यपी ने इस मामले में जानकारी दी है कि ‘भले ही उज्जैन में धूप खिली है, पर शाम के बाद मौसम में बदलाव की संभावना हो सकती है।’ ये भी पढ़ें: सिंहस्थ कुम्भ को महकाने के लिए उज्जैन में जलाई जाएगी 4 टन वजनी और 121 फीट लंबी अगरबत्ती!

उन्होंने आगे कहा कि उज्जैन में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चल सकती है। इसके साथ ही तेज़ बारिश और बिजली गिरने की भी संभावना है। इसका कारण है समुद्री हवा में नमी का बढ़ना, जिसकी वजह से कई इलाकों में भारी बारिश की संभावना है।

पिछली बार हुई इस अचानक  बारिश ने सभी इंतजामों को खराब कर दिया था। इसके अलावा कई पंडाल गिर गए थे और इनमें से एक पंडाल के गिरने से छह लोगों की मौत हो गई थी। ये पंडाल दत्त अखाड़ा क्षेत्र और चिंतामण क्षेत्र में बनाए गए थे। एक घटने तक हुई इस बारिश में काफी नुकसान हुआ और कई लोग घायल भी हो गए थे।