संसद में बजट सत्र के चौथे दिन गुरुवार को भी अगस्टा वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर डील पर हंगामे के आसार हैं। भरतीय जनता पार्टी और भी तेज हमला करने के फिराक में है। पिछले दिन की बात करे तो संसद में यही मुद्दा छाया रहा पर सोनिया गांधी के नाम आने के बाद कांग्रेस अपने बचाव में उतर आई थी। लेकिन आज लोकसभा में अनुराग ठाकुर तो राज्यसभा में सुब्रह्ण्यन स्वामी को मोर्चा सौंपा है। यह भी पढ़ें : इटली: कोर्ट ने कहा- चॉपर डील में हुआ घोटाला, पूर्व एयरफोर्स चीफ का नाम भी शमिल Also Read - Rahul Gandhi ने संसद के नियमों का किया उल्लंघन, लोकसभा अध्यक्ष की अनुमति के बगैर रखवाया 2 मिनट का मौन

Also Read - संसद में दिग्विजय सिंह ने दी बधाई, ज्योतिरादित्य सिंधिया बोले- आपका ही आशीर्वाद है

पूर्व रक्षा मंत्री ए. के. एंटनी Also Read - Economic Survey 2021: लोकसभा में आर्थिक सर्वे पेश, FY21 में GDP ग्रोथ रेट -7.7 फीसदी रहने की उम्मीद

पूर्व रक्षा मंत्री ए. के. एंटनी ने बुधवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि उसे दो साल तक वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले की जांच की सुध नहीं थी और अब काली सूची में शामिल की गई कंपनी की पिछले दरवाजे से मदद कर रही है। एंटनी एक प्रेस वार्ता में कांग्रेसी नेताओं के नाम के उल्लेख से बचते दिखे, जिसमें पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिह और अहमद पटेल आदि के नाम शामिल हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल

अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदा मामले में संलिप्तता के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के आरोपों से इनकार किया और कहा कि यदि उनके खिलाफ कुछ भी गलत पाया जाता है तो उन्हें फांसी पर लटका दिया जाए। पटेल ने कहा, “ये आरोप निराधार हैं।

सुब्रमण्यन स्वामी

इससे पहले बुधवार को राज्य सभा में सदन की कार्यवाही शुरू होते ही भारी हंगामे की स्थिति आ गई. एक दिन पहले ही राज्य सभा सांसद के तौर पर शपथ लेने वाले सुब्रमण्यन स्वामी ने इस घोटाले में सोनिया गांधी के शामिल होने का आरोप लगा दिया था।