नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए कमर कस ली है. 2019 के लोकसभा चुनाव में अपना पर्चम फहराने के लिए बीजेपी अभी से जुट गई है. बीजेपी केवल आम जनभावना से ही नहीं बल्कि दैवीय मदद से भी चुनाव जीतने के लिए प्रयासरत नजर आ रही है.Also Read - viral video: कांग्रेस विधायक पति के साथ थाने में धरने पर बैठी आईं नजर, बोलीं- सभी बच्‍चे पीते हैं

बता दें कि 2019 के आम चुनाव में मैदान मारने के लिए बीजेपी लाल किले पर महायज्ञ करना चाहती है. हफ्ते भर से ज्यादा लंबा चलने वाले इस यज्ञ का नाम ‘राष्ट्र रक्षा यज्ञ’ होगा. शीर्ष नेताओं के हिसाब से यह यज्ञ राष्ट्र भावना को जगाए रखेगा और चुनाव का मुद्दा भी यही होगा. यानि बीजेपी 2019 के लिए ‘राष्ट्रवाद’ को ही प्रमुख मुद्दा बनाने जा रही है. Also Read - UP Assembly Election 2022: प्रियंका गांधी का बड़ा ऐलान-यूपी विधानसभा चुनाव में 40% महिलाओं को टिकट देगी कांग्रेस

बस अब इंतजार है तो पीएम मोदी की मंजूरी मिलने का. इसके बाद यज्ञ की अंतिम तैयारियां शुरू हो जाएंगी. इस यज्ञ का आयोजन स्थल दिल्ली के लाल किले के प्रांगण को बनाने पर विचार हो रहा है. बताया जा रहा है कि इस स्थल का चुनाव काफी विचार-विमर्श के बाद किया गया है. Also Read - UP: BJP समर्थित बागी सपा विधायक नितिन अग्रवाल बड़े अंतर से यूपी विधानसभा के उपाध्यक्ष चुने गए, CM योगी ने SP पर हमला किया

बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता का कहना है कि यज्ञ 8 मार्च से शुरू होकर 15 मार्च तक चलेगा. कहा जा रहा है कि पीएम मोदी इस यज्ञ में पहली आहुति देंगे. गौरतलब है कि यही वह समय है जब लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार शुरू होगा. बीजेपी चाहती है कि यज्ञ से बने माहौल का चुनावी फायदा उठाया जाए.

108 हवन कुंड
लाल किले के प्रांगण में होने वाले इस यज्ञ में 108 हवन कुंड बनाए जाएंगे. इन यज्ञों को पार्टी के ही कार्यकर्ता डिजाइनर तैयार करेंगे, लेकिन इसमें हॉलीवुड या बॉलीवुड के भी किसी नामी डिजाइनर की मदद भी ली जा सकती है.

रोज 50 हजार लोग शामिल
वहीं, सूत्रों के हवाले से ख़बर है कि यज्ञ में देवी ‘बगलामुखी’ का आह्वान किया जाएगा. माना जाता है कि यह देवी अपने भक्तों को वाक्युद्ध में विजयी होने का आशीर्वाद देती है. इस यज्ञ में रोज 50 हजार लोग शामिल होंगे. रोज शाम को कई राज्यों के सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे. यहां कम से कम 15-20 हजार लोगों के बैठने का इंतजाम होगा.