नई दिल्ली: पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव के दौरान टीवी चैनलों को विज्ञापन देने के मामले में सबको पीछे छोड़ते हुए बीजेपी नंबर एक विज्ञापनदाता बन गई है. ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल की हालिया रिपोर्ट के मुताबिक 16 नवंबर को समाप्त हुए सप्ताह में बीजेपी ने विज्ञापन देने के मामले में विमल पान मसाला को पीछे छोड़ दिया है. रिपोर्ट के मुताबिक विज्ञापन देने के मामले में बीजेपी कई बड़ी कंपनियां नेटफ्लिक्स, होटलों के प्राइज कंपेयर करने वाली साइट ट्रिवागो, हिंदुस्तान यूनिलीवर और अमेजन से बहुत आगे है. Also Read - Rajasthan Political Crisis: सचिन पायलट के आगे कुआं, पीछे खाई! उपमुख्यमंत्री का क्या होगा अगला कदम?

Also Read - Rajasthan Political Crisis: कांग्रेस का 109 से ज्‍यादा एमएलए के समर्थन का दावा, शुरू होने वाली है विधायक दल की बैठक

सीपी जोशी के पीएम की जाति वाले बयान से बैकफुट पर कांग्रेस, डैमेज कंट्रोल के लिए आगे आए राहुल गांधी Also Read - Rajasthan Politics: पायलट के बगावती सुर के बाद अब भाजपा ने अपनाई "Wait And Watch" की नीति

इकनोमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक बीजेपी सभी चैनलों पर नंबर एक विज्ञापनदाता बन गई है. हालांकि 16 नवंबर से पहले वाले सप्ताह में बीजेपी विज्ञापन देने के मामले में नंबर दो पर थी. सबसे दिलचस्प बात ये है कि कांग्रेस इस लिस्ट में टॉप-10 में भी नहीं है. छत्तीसगढ़ में वोटिंग हो चुकी है. वहीं मध्य प्रदेश, राजस्थान तेलंगाना और मिजोरम में अभी मतदान बाकी है. पांच राज्यों में हो रहे चुनाव 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले सेमीफाइल के रूप में देखे जा रहे हैं. इन राज्यों के आए नतीजों का असर 2019 के चुनाव पर भी पड़ेगा. जाहिर है बीजेपी किसी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहती है. बता दें कि अप्रैल-मई में लोकसभा चुनाव होने हैं.

मध्य प्रदेश चुनाव 2018: कांग्रेस की गुटबाजी! होटल में आराम फरमाता रहा पायलट, हेलीकॉप्टर का इंतजार करते रहे सिंधिया

विज्ञापन देने के मामले में नंबर एक बनने को लेकर बीजेपी की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. हालांकि इस पेशे से जुड़े लोगों का कहना है कि ये तो अभी शुरुआत है. जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आएंगे राजनीतिक पार्टियों की ओर से मिलने वाले विज्ञापन की संख्या बढ़ेगी. विधानसभा चुनावों में स्थानीय मुद्दे हावी रहते हैं जबकि लोकसभा चुनावों में राष्ट्रीय ऐसे में टीवी राजनीतिक विज्ञापनों का स्लॉट और बढ़ेगा.

तेलंगाना में सोनिया-राहुल की रैली आज, 500 करोड़ की संपत्ति के मालिक ये नेता कांग्रेस में होंगे शामिल

ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक बीजेपी ने विज्ञापन 22099 बार ऑनएयर हुए यानी टीवी पर दिखाए गए. दूसरे नंबर पर नेटफ्लिक्स (12951), फिर ट्रिवागो (12795), संतूर साबुन (11222), डेटॉल (9487), वाइप (9082), कोलगेट (8938) डेटॉल साबुन (8633), अमेजन प्राइम विडियो (8031), अयूर फेस क्रीम (7962) शामिल हैं. फंड की कमी से जूझ रही कांग्रेस विज्ञापनों पर ज्यादा खर्च करने से बच रही है. यही कारण है कि टीवी पर विज्ञापन देने के मामले में वह टॉप-10 में भी नहीं है.