नई दिल्‍ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केंद्रीय बजट 2020 के पहले कल गुरुवार को शीर्ष अर्थशास्‍त्र‍ियों से नीति आयोग में मुलाकात करेंगे. बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष के लिए अपने आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को घटाकर पांच प्रतिशत कर दिया है. इसके मद्दे निचली आर्थिक विकास दर के अनुमान के बीच पीएम मोदी बेहतर और प्रभावी रणनीति के लिए टॉप इकोनॉमिस्‍ट के साथ मुलाकात करेंगे. वहीं, पीएम मोदी ने आम लोगों से भी बजट पर सुझाव भेजे हैं. Also Read - IPL 2021: चेन्नई-राजस्थान मैच के बाद फिर चर्चा में आई Mankading; पूर्व क्रिकेटर ने कहा- बल्लेबाजों को भी मिले लाइन पार करने की सजा

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को देश के शीर्ष 10 कारोबारियों से मुलाकात की थी और अर्थव्यवस्था में सुधार, रोजगार सृजन और विकास दर सहित अन्य विषयों पर चर्चा की थी. Also Read - COVID-19: हांगकांग ने भारत से आने वाली फ्लाइट्स कल से 3 मई तक के लिए स्थगित कीं

प्रधानमंत्री ने बजट के बारे में लोगों से सुझाव मांगे
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगामी वित्त वर्ष के लिए संसद में पेश किए जाने वाले केंद्रीय बजट के लिए आम लोगों से विचार और सुझावों को आमंत्रित किया है.

मोदी ने  ट्वीट कर ‘मायगव’ पर सुझाव आमंत्रित किए 
मोदी ने ट्वीट कर कहा, ”केंद्रीय बजट 130 करोड़ भारतीयों की आशा, आकांक्षाओं का प्रतिनिधित्व करता है और भारत को विकास की दिशा में आगे बढ़ता है. मैं आप सभी को इस वर्ष के बजट के लिए अपने विचारों और सुझावों को साझा करने के लिए आमंत्रित करता हूं.” नए बजट के बारे में नागरिक भागीदारी मंच ‘मायगव’ पर सुझाव आमंत्रित किए गए हैं.

एक फरवरी को बजट पेश कर सकती मोदी सरकार 
संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू होने का अनुमान है और एक फरवरी को वित्त वर्ष 2020-21 के लिए मोदी सरकार दूसरे कार्यकाल का पहला पूर्ण बजट पेश कर सकती हैं.