Top Recommended Stories

लव जिहाद कानून की मांग, असदुद्दीन ओवैसी बोले- पहले संविधान पढ़ लो

उन्होंने कहा कि भाजपा द्वारा फैलाया जा रहा नफरत का यह दुष्‍प्रचार नहीं चलेगा.

Published: November 22, 2020 4:12 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Amit Kumar

AIMIM chief Asaduddin Owaisi
Owaisi Schools Pak Over Hijab Row, Reminds Malala Shooting

नई दिल्ली: भाजपा शासित कुछ राज्यों ने तथाकथित लव जिहाद की रोकथाम के लिए योजनाएं बनाई हैं. इसको लेकर एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि ऐसे कानून लाने वाले राज्‍य पहले संविधान पढ़ लें. ओवैसी का कहना है कि ऐसा कोई भी कानून संविधान के अनुच्‍छेद 14 और 21 का उल्‍लंघन है.

कुछ राज्यों द्वारा ‘लव-जिहाद’ के खिलाफ कानून बनाए जाने पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, “ये कानून अनुच्छेद 14 और 21 का उल्लंघन होगा, उनको संविधान पढ़ना चाहिए. क्या आप विशेष विवाह अधिनियम खत्म कर देंगे. देश के बेरोज़गार नौजवानों का ध्यान हटाने के लिए BJP ये सब ड्रामे कर रही है.”

You may like to read

उन्होंने कहा कि भाजपा द्वारा फैलाया जा रहा नफरत का यह दुष्‍प्रचार नहीं चलेगा. ओवैसी ने आरोप लगाते हुए कहा कि हैदराबाद में बाढ़ आई थी मोदी सरकार ने उस समय क्‍या मदद दी? उन्होंने कहा, “मोदी सरकार जीएचएमसी चुनावों को सांप्रदायिक रंग देना चाहती है लेकिन इस बार यह काम नहीं करेगा क्‍योंकि लोग असलियत जानते हैं.”

महज ग्रेटर हैदराबाद म्‍युनिसिपल कॉर्पोरेशन चुनावों (जीएचएमसी) को लेकर कहा, “RS, BJP,कांग्रेस ये सभी पार्टी सिर्फ चुनाव के समय में ही एक्टिव होती हैं जबकि हमारी पार्टी साल के 12 महीने काम करती हैं, हमें विश्वास है कि हमने जो काम किया है उससे हमें अच्छा नतीजा मिलेगा और हमें कामयाबी हासिल होगी.”

Also Read:

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें India Hindi की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

By clicking “Accept All Cookies”, you agree to the storing of cookies on your device to enhance site navigation, analyze site usage, and assist in our marketing efforts Cookies Policy.