हैदराबाद. ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) चीफ असउद्दीन ओवैसी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है. हैदराबाद में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा, कांग्रेस खत्म हो गई है. पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के आरएसएस कार्यक्रम में जाने के सवाल पर उन्होंने कहा, एक आदमी जो 50 साल कांग्रेस में रहता है और देश का राष्ट्रपति रहा हो वह आरएसएस हेडक्वार्टर चला जाता है. क्या आपको अब भी इस पार्टी से कोई उम्मीद है? Also Read - कमलनाथ के 'आइटम' वाले बयान को राहुल गांधी ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण, कहा- 'मुझे इस तरह की भाषा पसंद नहीं'

बता दें कि 7 जून को आरएसएस के संघ शिक्षा वर्ग के तृतीय वर्ष के समापन पर आयोजित कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी शामिल हुए थे. इस दौरान उन्होंने संघ के संस्थापक हेडगेवार को भारत मां का महान सपूत बताया था. हालांकि, इस दौरान स्वयंसेवकों और वहां मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए उन्हें भारत की महान परंपरा और इतिहास के बारे में बोला था. उन्होंने गुप्त और मौर्य वंस से लेकर गांधी और नेहरु तक की परंपरा और भारत की अवधारणा के साथ-साथ संविधान के महत्व के बारे में बोला था.

कांग्रेस नेताओं ने विरोध किया था
हालांकि, प्रणब मुखर्जी के संघ के कार्यक्रम में जाने को लेकर कई कांग्रेसी नेताओं ने विरोध जताया था. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्तमंत्री प्रणब मुखर्जी ने कहा था कि वह प्रणब दा की जगह होते तो आमंत्रण कभी स्वीकार नहीं करते. वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता और पूर्व मंत्री मनीष तिवारी ने कहा कि प्रणब दा जिस सरकार के मंत्रीमंडल में थे उसने आरएसएस पर बैन लगाया था. इतना ही नहीं उन्होंने ये भी कहा कि 80-90 के दशक में संघ की कार्यप्रणाली को लेकर उन्होंने जो आगाह किया था, क्या वह गलत था?

बेटी ने भी सवाल खड़े किए थे
प्रणब मुखर्जी की बेटी ने भी उनके आरएसएस के कार्यक्रम में जाने को लेकर सवाल उठाया था. उऩ्होंने ट्वीट करते हुए कहा था कि भाषण तो भुला दिए जाएंगे, रह जाएंगी तो तस्वीरें. प्रणब दा के कार्यक्रम से आ जाने के बाद उनकी मॉर्फ्ड फोटो पर भी उन्होंने टिप्पणी करते हुए कहा था कि जैसा मैंने सोचा था ठीक वैसा ही हुआ. उनकी फोटो का दुरुपयोग शुरू हो गया है.