नई दिल्ली. भारतीय वायुसेना और नौसेना के प्रमुखों को जेड प्लस सुरक्षा दी जाएगी. अधिकारियों ने यह जानकारी दी है. पाकिस्तान के साथ बढ़े तनाव के मद्देनजर वायुसेना प्रमुख एयर मार्शल बी एस धनोआ और नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा को संभावित खतरे की गहन समीक्षा के बाद यह निर्णय लिया गया है. एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि दोनों सेनाओं के प्रमुखों को जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा दी जाएगी. सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत को पहले ही जेड प्लस सुरक्षा मिली हुई है.

बता दें कि भारत की एयर स्ट्राइक के बाद तीनों सेना प्रमुखों ने बयान दिया था कि वे पाकिस्तान के किसी भी उकसाव के लिए पूरी तरह तैयार हैं. पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की कोशिश करने के बाद तीन बलों ने कहा था कि पाकिस्तान ने बुधवार को इन प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की मंशा से हवाई छापे से तनाव बढ़ा दिया और भारत किसी भी स्थिति का करारा जवाब देने के लिए तैयार था.

एयर वाइस मार्शल ने ये कहा था
एयर वाइस मार्शल आर जी के कपूर ने कहा, सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने का प्रयास कर रहे पाकिस्तान वायुसेना के विमान को भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों को रोक दिया और उनकी साजिश नाकाम कर दी. पीएएफ के बम भारतीय सेना के परिसर में आकर गिरे, वे हमारे सैन्य प्रतिष्ठानों को कोई नुकसान पहुंचाने में नाकाम रहे.

एफ-16 को मार गिराया
उन्होंने कहा कि हवाई संघर्ष में भारतीय वायुसेना के मिग-21 बाइसन ने पाकिस्तानी वायुसेना का एक एफ-16 मार गिराया. एफ-16 दुर्घटनाग्रस्त होकर एलओसी पार करके पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में जाकर गिरा. वायुसेना अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तान ने बुधवार को भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाकर किये गये हवाई हमले के बाद से तथ्यात्मक रूप से गलत बयान दिये.