नई दिल्ली: कोरोना वायरस से प्रभावित ईरान में फंसे कुल 277 भारतीयों को स्वदेश वापस ले आया गया है. वे बुधवार की सुबह को जोधपुर एयरपोर्ट पहुंचे. उनके आगमन के बाद हवाई अड्डे पर उनकी प्रारंभिक जांच की गई. इसके बाद उन्हें जोधपुर मिलिट्री स्टेशन में स्थापित भारतीय सेना के आइसोलेशन सेंटर में ठहराया गया. Also Read - Coronavirus: शरद पवार ने PM से उठाया जमात का मुद्दा, बोले- खास समुदाय को दोष देना ठीक नहीं


भारतीय सेना ने बयान दिया, “राजस्थान स्टेट मेडिकल के अधिकारियों और जोधपुर के नागरिक प्रशासन के साथ मिलकर तालमेल के साथ सेना ने एक आरामदायक आइसोलेशन की व्यवस्था और और रोग निरोधी चिकित्सा सहायता प्रदान करने के लिए पर्याप्त चिकित्सा और प्रशासनिक व्यवस्था की है.” आइसोलेशन में ठहराए गए लोगों की चिकित्सा में सेना के डॉक्टरों की एक टीम को तैनात किया गया है, जो आइसोलेशन में रहने के दौरान प्रवासियों के स्वास्थ्य पर निगरानी रखेंगे.

भारतीय रक्षा बलों ने पूरे देश में करीब 5000 लोगों के लिए आइसोलेशन वार्ड की स्थापना की है, जहां उन लोगों को रखा जाएगा, जो कोरोना वायरस प्रभावित देशों से आ रहे हैं या जिनके इस वायरस से संक्रमित होने का संदेह है. वहीं भारतीय सेना ने करीब 4000 लोगों के लिए आइसोलेशन ठिकाने की स्थापना की है और भारतीय नौसेना और भारतीय वायुसेना ने 1000 लोगों के लिए इन सुविधाओं की व्यवस्था की है.