Air India Flight Baggage Policy: देश में 25 मई के बाद से घरेलू उड़ानों को शुरू किया जा चुका है. इसी बाबत मंत्रालय व विमानन कंपनियों द्वारा कई तरह के नियम व गाइडलाइन्स जारी किए गए. एयर इंडिया कंपनी ने इस दौरान बैगेज को नियम भी जारी किए हैं. आज हम आपको एयर इंडिया विमान में यात्रियों के बैगेज को लेकर बनाए गए नियमों के बारे में बताने वाले हैं. साथ ही यह भी बताएंगे कि आखिर कंपनी ने किन लोगों को यात्रा न करने की सलाह दी है. आपको अपनी यात्रा से पहले इन नियमों को जानना बेहद जरूरी है. Also Read - वंदे भारत मिशन का चौथा चरण: 3 से 15 जुलाई तक विमानों का परिचालन करेंगी इंडिगो, एअर इंडिया और गोएयर

एयर इंडिया की तरफ से यात्रियों को कहा गया है कि वो यात्रा के दौरान सिर्फ एक ही हैंड बैगेज साथ रखें. इसका अधिकतम वजन 7 किलो होना चाहिए. वहीं इकॉनामी क्लास के लिए कंपनी ने सिर्फ एक ही चेकइन बैगेज रखने की सलाह दी है. बता दें कि इस चेकइन बैगेज का वजन 23 किलोग्राम से अधिक नहीं होना चाहिए. बात अगर बिजनेस क्लास की करें तो यात्रियों को 35 किलो वजन तक के बैगेज को ले जाने की इजाजत दी गई है. वहीं चेकइन लगेज में पावर बैंक न रखने की सलाह दी गई है. कंपनी ने बताया कि यात्री चाहें तो पावर बैंक को हैंड बैग में ले जा जा सकते हैं. Also Read - International Flights Tickets Booking: 1 जुलाई से शुरू होंगी यूरोपीय देशों की फ्लाइट बुकिंग, उड़ान, तुर्की ने शुरू की अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट

बता दें कि एयरपोर्ट पर लगेज ट्रॉली की संख्या भी फिलहाल कम रखी गई है. इस कारण यात्रियों को इस बात का ध्यान रखना होगा कि अगर ज्यादा लगेज आप लेकर जाएंगे तो आपको बैगेज ट्रॉली की सेवा शायद आपको न मिल पाए. अगर आपके पास चेकइन लगेज नहीं है तो आप सीधा चेकइन काउंटर पर जा सकते हैं. बता दें कि आपको यात्रा के दौरान किसी तरह का अखबार या मैगजीन यात्रियों को नहीं दिया जाएगा. Also Read - फ्लाइट से यूपी पहुंचे लोग बोले- 'हर नमाज़ के बाद अल्लाह से अमिताभ बच्चन के लिए करेंगे दुआ'

एयर इंडिया कंपनी ने बुजुर्गों और गर्भवती महिलाओं को यात्रा न करने की सलाह दी है. बता दें कि फ्लाइट में यात्रा करने के लिए चेकइन काउटर पर आपको यात्रा के समय से 60 मिनट पहले ही पहुंचना होगा. क्योंकि काउंटर 60 मिनट पहले ही बंद हो जाएगा. बता दें कि यात्रियों को यात्रा से पहले अपने स्वास्थ्य संबंधी पूरी सही सही जानकारी देना होगा. इस दौरान यात्रियों के सामान पर क्लेम टैग नहीं दिया जाएगा. यात्रियों को इसके लिए बैगेज टैग की तस्वीर क्लिक कर अपने फोन में रखना होगा. इस तस्वीर के आधार पर ही यात्रियों को उनका बैग या सामान दिया जाएगा. यात्रा के दौरान अगर किसी यात्री के पास तय किए गए वजन से ज्यादा का सामान है तो उन्हें उसका अलग से भुगतान करना होगा. इस दौरान कैश पेमेंट की सुविधा एयरपोर्ट पर उपलब्ध नहीं होगा.