नई दिल्ली. एयर इंडिया के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक प्रदीप सिंह खारोला ने बुधवार को कुछ विदेशी मार्गों पर इकोनॉमी क्लास की सीट को बिजनेस क्लास में अपग्रेड करने की नई व्यवस्था की घोषणा की. इसके लिए यात्री को बोली लगानी पड़ेगी और कुछ अतिरिक्त धन खर्च करना पड़ेगा. उन्होंने कहा, आपको केवल अतिरिक्त राशि के लिए बोली लगानी होगी. आप इकोनॉमी क्लास के लिए तो भुगतान कर चुके होंगे. हमने किसी व्यक्ति के लिए बोली की न्यूनतम सीमा तय करेंगे. Also Read - यूपी: पूरी हुई हवाई सेवा की आस, पहली बार दिल्ली से बरेली पहुंचा विमान, ऐसे हुआ स्वागत

राष्ट्रीय एयरलाइन ने अमेरिका, यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, जापान और हांगकांग की उड़ानों के लिए यह व्यवस्था शुरू की है. यह सुविधा अभी खाड़ी देशों की उड़ानों के लिए नहीं शुरू की गयी है. उन्होंने कहा, आम लोगों की भाषा में कहें तो हमारी कोशिश है कि इकोनॉमी क्लास में टिकट बुक कर चुके लोगों को हम थोड़ा अतिरिक्त किराया देकर अपनी सीट को बिजनेस क्लास में अपग्रेड करने का अवसर दे रहे हैं. Also Read - विजयवाड़ा हवाई अड्डे पर बिजली के खंभे से टकराया Air India Express का विमान, बाल-बाल बचे 64 यात्री

ये है नाम
इस बोली प्रक्रिया को एयर इंडिया की वेबसाइट पर ‘बिजनेस-लाइट’ का नाम दिया गया है. दिसंबर के आखिरी सप्ताह में इस व्यवस्था की शुरुआत की गयी. अधिकारी ने बताया,चेक-इन पूरी होने के बाद जब यात्री सुरक्षा जांच के लिए आगे बढ़ता है तो सिस्टम उसे दिखाता है कि बिजनेस क्लास में कितनी सीटें खाली हैं. इसके बाद बोली (अधिक से कम के क्रम में) के आधार पर सिस्टम यात्रियों को सीट आबंटित करता है. Also Read - एयर इंडिया के स्टाफ ने Manu Bhaker से की 'बदतमीजी', कार्रवाई की मांग

बोर्डिंग गेट तक हो सकता है अपग्रेड
खारोला ने कहा, ऐसे में जब आप बोर्डिंग गेट तक पहुंचते हैं तो आपका सीट अपग्रेड हो चुका होता है. बोर्डिंग गेट के पास आपको (बिजनेस क्लास की सीट के साथ) संशोधित बोर्डिंग पास दिया जाता है. उनके मुताबिक ऐसे बोलीदाताओं के रुपये वापस कर दिये जाएंगे, जिन्हें सीट आवंटित नहीं की गयी.