नई दिल्ली: एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया भारतीय वायुसेना के अगले प्रमुख बनेंगे और बीएस धनोआ की सेवानिवृत्ति के बाद यह दायित्व संभालेंगे. सरकार ने गुरुवार को यह घोषणा की. भदौरिया इसी साल मई में वायुसेना उप प्रमुख बने थे. राष्ट्रीय रक्षा अकादमी से निकले भदौरिया को जून 1980 में वायु सेना की युद्धक शाखा में रखा गया था. योग्यता की समग्र सूची में अव्वल आने के कारण उन्हें सोर्ड ऑफ ऑनर से सम्मानित किया गया था.

रक्षा मंत्रालय के प्रधान प्रवक्ता ने ट्विटर पर कहा, सरकार ने वर्तमान में वायुसेना उप प्रमुख एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया, पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएम, एडीसी को अगला वायुसेना प्रमुख नियुक्त करने का निर्णय किया है. भारतीय वायुसेना के 25वें प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीरेंद्र सिंह धनोआ 30 सितंबर को सेवानिवृत्त होने जा रहे हैं. उन्होंने एक जनवरी 2017 को यह दायित्व संभाला था.

भदौरिया ने अपने करीब चार दशक लंबे पेशेवर जीवन में जगुआर विमान के स्क्वाड्रन और एक प्रमुख वायुसेना केंद्र का नेतृत्व किया. वह मुख्य परीक्षण पायलट और हल्के लड़ाकू विमान (एलसीए) के राष्ट्रीय उड़ान परीक्षण केंद्र में परियोजना निदेशक रह चुके हैं. वह एलसीए के प्रारंभिक प्रोटोटाइप उड़ान परीक्षणों में व्यापक रूप से शामिल थे. उनके पास 26 प्रकार के लड़ाकू एवं परिवहन विमानों को 4250 घंटे उड़ाने का अनुभव है.

भदौरिया के पास मास्को में भारतीय दूतावास के वायुसेना अताशे, वायुसेना उप प्रमुख (परियोजनाएं), राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के कमांडेंट, वायुसेना मुख्यालय में डिप्टी चीफ ऑफ एयर स्टाफ और वायुसेना की दक्षिणी कमान का कमांडर होने का भी अनुभव है.