नई दिल्ली. दीपावली से पहले दिल्ली में वायु प्रदूषण का स्तर खतरनाक हो गया है. इससे धुंध ने पूरी दिल्ली को अपनी चपेट में ले लिया है. पूरे दिल्ली एनसीआर में सोमवार को हवा की क्वालिटी इतनी खराब है कि सांस लेना मुश्किल हो रहा है.

एयर क्वालिटी इंडेक्स के मुताबिक, एयर क्वालिटी इंडेक्स नई दिल्ली के मंदिर मार्ग पर 707, मेजर ध्यानचंद स्टेडियम के पास 676, जवाहरलाल नेहरु स्टेडियम पर 681 अंकों के आसपास रहा. साथ ही PM 2.5 और PM 10 ‘Poor’ कैटेगरी में हैं. राजधानी के सफदरजंग इलाके में विजिबिलटी 500-600 मीटर तक है. प्रदूषण के कारण ही धुआं और कोहरा मिक्स हो गया है, यही कारण है कि विजिबिलटी पर फर्क पड़ रहा है.

धुंध के अलावा सोमवार को दिल्ली के तापमान में भी कमी आई. सोमवार की सुबह दिल्ली समेत उत्तर भारत में कोहरा छाया रहा. सोमवार सुबह 8.30 बजे तक राजधानी का तापमान 14.8 डिग्री तक गिर गया है.

केन्द्र द्वारा संचालित ‘सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी फारकास्टिंग एंड रिसर्च’ के एक अधिकारी के मुताबिक, सोमवार शाम से नमी बढने की बहुत संभावना है जो प्रदूषण स्तर को बढ़ा सकता है. अधिकारी ने कहा, एक्यूआई सोमवार को ‘बहुत खराब’ के निचले स्तर पर पहुंचने की आशंका है क्योंकि वायुमंडल कुल मिलाकर साफ है. संस्थान ने कहा, अगर भारत के उत्तरपश्चिम क्षेत्र में रविवार और सोमवार को बड़ी मात्रा में पराली जलाना जारी रहता है तो दिल्ली के ऊपर इसका असर आने की बहुत आशंका है और एक्यूआई ‘बहुत खराब’ श्रेणी के ऊपरी स्तर पर पहुंच सकता है.

उन्होंने कहा कि हवा की उत्तरपश्चिम दिशा में मंगलवार और बुधवार को पराली के जलने से पैदा गैसों का प्रभाव महसूस किया जा सकता है. दिल्ली में अधिकारियों ने प्रदूषण से निपटने के लिए कई प्रयास किये हैं जिसमें निर्माण कार्य को रोकने सहित यातायात संबंधी गतिविधियों पर नियंत्रण लगाना शामिल है.