नई दिल्ली: दिल्ली की वायु गुणवत्ता में बृहस्पतिवार को काफी सुधार हुआ. बारिश में प्रदूषक तत्व छंट तो गये लेकिन अधिकारियों ने चेताया कि मौसम की प्रतिकूल स्थितियों के कारण राहत बहुत ज्यादा समय नहीं टिकेगी. केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने डेटा के अनुसार, शहर का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) बीते तीन दिन में 400 से अधिक से गिरकर 208 हो गया.

केन्द्र द्वारा संचालित ‘वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान प्रणाली’ (सफर) ने बताया कि यह राहत ऐसे समय मिली है जब दिल्ली की वायु गुणवत्ता सोमवार से लगातार तीन दिन गंभीर स्तर के प्रदूषण से कराह रही थी. लेकिन बीती रात मध्यम गति की वायु के साथ बारिश होने से बड़ी मात्रा में प्रदूषक वायुमंडल से छंट गये. एक्यूआई की 201 से 300 तक की श्रेणी ‘खराब’, 301 से 400 तक की श्रेणी ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 तक की श्रेणी ‘गंभीर’ कहलाती है.

सीपीसीबी डेटा के अनुसार, गाजियाबाद और फरीदाबाद में वायु गुणवत्ता ‘खराब’ श्रेणी में दर्ज की गई जबकि गुड़गांव और नोएडा में वायु गुणवत्ता ‘मध्यम’ श्रेणी में रही. दिल्ली के 17 क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता ‘खराब’ और 19 क्षेत्रों में ‘मध्यम’ श्रेणी में रही. पीएम 2.5 का औसत स्तर 95 जबकि पीएम 10 स्तर 164 दर्ज किया गया. सोमवार, मंगलवार और बुधवार की सुबह एक्यूआई क्रमश: 412, 415 और 413 रहा था.