नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने हरियाणा के पंचकुला में एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) को एक भूखंड आवंटन से जुड़े धन शोधन के एक मामले में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से बृहस्पतिवार को पूछताछ की. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. हालांकि, सूत्रों ने शुरूआत में बताया था कि हरियाणा के मानेसर में कथित तौर पर जमीन कब्जाने के सिलसिले में पूछताछ की गई.

 

उन्होंने बताया कि हुड्डा से चंडीगढ़ में चार घंटे पूछताछ की गई और धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत उनका बयान दर्ज किया गया. उनसे शुक्रवार को भी पूछताछ किये जाने की उम्मीद है. पंचकुला स्थित यह भूखंड सेक्टर छह में सी-17 नंबर पर पंजीकृत है. इसे पिछले साल ईडी ने कुर्क कर लिया था. एजेएल को कथित तौर पर नेहरू-गांधी परिवार के सदस्यों सहित कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं द्वारा संचालित किया जाता था. यह ग्रुप नेशनल हेराल्ड अखबार निकालता था.

ईडी की जांच में पाया गया है कि हुड्डा ने हरियाणा का मुख्यमंत्री रहने के दौरान अपने आधिकारिक पद का दुरूपयोग करते हुए यह भूखंड पुन: आवंटन की आड़ में नये सिरे से एजेएल को 1982 की दर (91 रुपये प्रति वर्ग मीटर) और ब्याज के साथ फर्जी तरीके से आवंटित कर दिया. एजेंसी ने कहा था कि 2005 में इस पुन:आवंटन से एजेएल को अनुचित फायदा हुआ. ईडी के मुताबिक इस भूखंड का बाजार मूल्य 64.93 करोड़ रूपये था जबकि इसे हुड्डा को 69.39 लाख रूपये में आवंटित कर दिया था.