नई दिल्‍ली: ब्रिटेन यात्रा के दौरान कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी के 1984 से सिख दंगों से संबंधित बयान पर शिरोमणि अकाली दल और भाजपा ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने जहां इसके लिए राहुल की सोच पर सवाल उठाए हैं, वहीं शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर सिंह बादल ने उन पर हत्‍यारों का साथ देने का आरोप लगाया है.Also Read - Punjab Assembly Elections 2022: पंजाब चुनाव की बड़ी खबर, शिरोमणि अकाली दल ने बसपा से किया गठबंधन

Also Read - छत्तीसगढ़ सरकार ने दी बड़ी राहत-22 लाख क‍िसानों में खाते में आएगी 1500 करोड़ की सब्‍स‍िडी, जानिए

ब्रिटेन दौरे पर गए राहुल गांधी से संवाददाताओं ने 1984 में इंदिरा गांधी की हत्‍या के बाद हुए सिख दंगों को लेकर सवाल किया था. उनके जवाब के बाद से भाजपा और अकाली दल उन्‍हें लगातार निशाना बना रहे हैं. सुखबीर बादल ने कहा है कि राहुल के बयान से पीडि़तों के जख्‍म और गहरे होंगे. राहुल ने स्‍पष्‍ट कर दिया है कि वे हत्‍यारों के साथ हैं. Also Read - Indira Gandhi Birth Anniversary: दिवंगत प्रधानमंत्री ‘आयरल लेडी’ इंदिरा गांधी का 103वां जन्मदिन, सोनिया-राहुल ने दी श्रद्धांजलि

लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारी: राहुल गांधी ने गठित की तीन कमेटी, लिस्ट में इन बड़े नेताओं के नाम

वहीं, केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने राहुल गांधी की सोच पर सवाल उठाए हैं. हरसिमरत ने कहा कि मैं आज अपने मस्तिष्‍क में राहुल गांधी का दिमाग रख कर बोल रही हूं. राहुल को लगता है कि सिखों का नरसंहार कभी हुआ ही नहीं, तो मेरा मानना है कि राहुल के पिता और दादी की भी हत्‍या नहीं हुई थी. वे तो सामान्‍य हार्ट अटैक से मरे थे.

राफेल डील पर चिदंबरम का हमला, रक्षा खरीद की प्रक्रिया का सरकार ने नहीं रखा ध्‍यान

इससे पहले भाजपा ने बर्लिन में संबोधन के दौरान गुरु नानक देव का नाम लेने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की निंदा की थी. भाजपा ने यह मांग भी की कि गांधी को सिखों के खिलाफ अपराध के लिए माफी मांगनी चाहिए.