चंडीगढ़: शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के एक नेता ने सोमवार को यहां कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के राजनीतिक करियर का अंत उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा की सक्रिय राजनीति में आने के साथ लिख गया है. प्रियंका गांधी के लखनऊ में पहले रोडशो पर प्रतिक्रिया देते हुए बिक्रम सिंह मजीठिया ने मीडिया से कहा, “आज भोग पाई गया है राहुल गांधी जी दा यानी राहुल गांधी के राजनीतिक करियर का अंत लिख गया है.” Also Read - अहमद पटेल कांग्रेस के एक मजबूत स्तंभ थे जो मुश्किल दौर में हमेंशा पार्टी के साथ खड़े रहे: राहुल गांधी

Also Read - #RIPahmedpatel: वफादार, मददगार और रणनीतिकार...ऐसे थे कांग्रेस के ‘अहमद भाई’

लखनऊ: प्रियंका-राहुल गांधी का रोड शो, कांग्रेस ने दिखाई ताकत, ज्योतिरादित्य समेत कई पार्टी दिग्गज भी मौजूद Also Read - #RIPahmedpatel: दिग्विजय सिंह ने कहा- सभी कांग्रेसियों के लिए हर मर्ज की दवा थे अहमद पटेल

पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव बनने के बाद प्रियंका लखनऊ में पहला रोड शो कर रही हैं. मजीठिया ने कहा कि प्रियंका गांधी को राजनीति में लाकर कांग्रेस पार्टी ने खुद राहुल गांधी की असफलता को स्वीकार कर लिया है. मजीठिया केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल के छोटे भाई हैं.

राजनीति में आने के बाद Twitter पर भी एक्टिव हुईं प्रियंका, कुछ ही घंटों में हो गए इतने सारे Followers

पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री मजीठिया ने कहा, “कांग्रेस ने इसे खुद स्वीकार किया है कि राहुल असफल रहे हैं और उनकी पार्टी में चीजें काम नहीं कर रही हैं. इसलिए वह अब अपनी बहन को लाए हैं.” उन्होंने कहा, “इससे हमें कोई फर्क नहीं पड़ता. कांग्रेस फैसला कर सकती है कि किसे आगे बढ़ाना है. चाहे यह राहुल गांधी हो, या सोनिया गांधी या रॉबर्ट वाड्रा, हमें इससे कुछ नहीं लेना-देना है.”