उत्तर प्रदेश: लखनऊ में पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी कार्यालय पर इफ्तार पार्टी का आयोजन किया. इस मौके पर ना तो मुलायम पहुंचे और न ही चाचा शिवपाल यादव. वरिष्ठ नेता आजम खान भी इस पार्टी में नहीं आए. इससे एक बात तो साफ है कि पिता मुलायम सिंह यादव और पुत्र अखिलेश यादव के बीच का मनमुटाव अभी खत्म नहीं हो पाया है. Also Read - Ballia Shooting Case: मुख्य आरोपी धीरेंद्र 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया

एसपी की इस इफ्तार पार्टी को यादव कुनबे में सुलह के अवसर के रूप में भी देखा जा रहा था, लेकिन मुलायम और शिवपाल की अनुपस्थिति ने साफ कर दिया कि अभी परिवार में सबकुछ ठीक नहीं है. Also Read - Ballia Shooting Case: बलिया गोलीकांड के मुख्य आरोपी धीरेंद्र को यूपी STF ने लखनऊ से किया गिरफ्तार

बता दें कि अखिलेश यादव के इफ्तार पार्टी में राम गोविन्द चौधरी, अहमद हसन, कमाल अख्तर, अभिषेक मिश्रा और राज्य सभा सासंद नरेश अग्रवाल समेत कई बड़े नेताओं ने शिरकत की. इसके अलावा सुन्नी धर्मगुरु मौलाना रशीद फरंगी महली और मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य जफरयाब जिलानी भी मौजूद रहे. हजारों की तादाद में सपा कार्यकर्ता भी समाजवादी पार्टी कार्यालय पहुंचे हुए थे.पार्टी कार्यालय में रोजेदारों ने अखिलेश यादव की मौजूदगी में रोजा खोला. Also Read - Ballia shooting Case: आरोपी धीरेंद्र का VIDEO वायरल, खुद को बताया बेकसूर- अधिकारियों पर लगाए गंभीर आरोप