त्रिशूर (केरल): सोचिए! अगर आपके पानी के नल से शराब की आपूर्ति शुरू हो जाए तो आपकी क्या प्रतिक्रिया होगी. यह कोई कोरी कल्पना नहीं है बल्कि केरल के एक अपार्टमेंट की हकीकत है. केरल के त्रिशूर जिले में चलाक्कुडी में एक अपार्टमेंट के निवासी उस समय हैरान रह गए जब सोमवार को उनके नल से पानी के साथ शराब आने लगी.

दरअसल, आबकारी अधिकारियों ने भारत में बनी विदेशी शराब के पुराने भंडार का बड़ा हिस्सा एक गड्ढे में बहा दिया जो रिस कर पास ही में बने अपार्टमेंट के खुले जलाशय में चली गई. एक वरिष्ठ आबकारी अधिकारी ने कहा, ‘विभिन्न ब्रांडों की शराब के 450 मामले थे…हमने अदालत के आदेश के अनुसार इसे नष्ट कर दिया लेकिन हमें नहीं मालूम था कि इससे ये सभी मुद्दे खड़े हो जाएंगे.’

इस घटना से न्यू सोलोमन्स अपार्टमेंट में रह रहे 18 परिवार प्रभावित हुए और उनके नल से पानी में शराब मिलकर आने लगी. अधिकारी ने बताया कि उन्होंने अपार्टमेंट के निवासियों के अस्थायी इस्तेमाल के लिए 5,000 लीटर क्षमता के पानी के टैंक की व्यवस्था की और जलाशय को साफ करने की प्रक्रिया चल रही है. इरिन्जालाकुडा के आबकारी अधिकारियों ने छह साल पहले एक बार से करीब 2,200 लीटर शराब जब्त की थी.

हॉट शॉट्स और स्लीवलेस टॉप में पेड़ के नीचे किसका इंतजार कर रहीं सारा अली, कहा- इस Valentines Day पर…

एक स्थानीय अदालत के हाल के आदेश के आधार पर उन्होंने पुराना भंडार नष्ट करने, बार के परिसर में एक गड्ढा खोदने का फैसला किया और रविवार को इसमें शराब बहा दी. निवासियों की परेशानियों के बारे में सुनकर आबकारी अधिकारी हरकत में आए और उन्होंने उन्हें स्वच्छ पेयजल मुहैया कराने तथा जलाशय साफ कराने का वादा किया. चलाक्कुडी पुलिस ने बताया कि उन्हें इस संबंध में कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है.